NDTV Khabar

पहले 5,000 रुपये में खरीदा कोबरा, फिर पत्नी की हत्या कर शव पर गड़ाए उसके दांत, पर खुल गई पोल

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) शैलेंद्र सिंह चौहान ने बताया कि मुख्य आरोपी की पहचान अमितेश पटेरिया (36) के रूप में हुई है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पहले 5,000 रुपये में खरीदा कोबरा, फिर पत्नी की हत्या कर शव पर गड़ाए उसके दांत, पर खुल गई पोल

प्रतीकात्मक तस्वीर

खास बातें

  1. पूर्व बैंक मैनेजर ने पत्नी की हत्या कर गड़ाए मृत कोबरा के दांत
  2. मुख्य आरोपी की पहचान अमितेश पटेरिया (36) के रूप में हुई
  3. हत्याकांड से पहले सांप को अलमारी में छिपाकर रखा था.'
इंदौर:

मध्य प्रदेश के इंदौर में जांचकर्ताओं की आंखों में धूल झोंकने की नीयत से अपनी 35 वर्षीय पत्नी के हत्याकांड में मरे कोबरा का इस्तेमाल करने के आरोप में एक पूर्व बैंक मैनेजर को पुलिस ने बुधवार को धर दबोचा. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) शैलेंद्र सिंह चौहान ने बताया कि मुख्य आरोपी की पहचान अमितेश पटेरिया (36) के रूप में हुई है. वह एक निजी बैंक में मैनेजर रह चुका है. उन्होंने बताया कि पिछले चार साल से जारी पारिवारिक कलह में पटेरिया ने अपनी पत्नी शिवानी (35) की कनाड़िया क्षेत्र के घर में एक दिसंबर को कथित तौर पर तकिए से दम घोंटकर हत्या कर दी थी. इसके बाद उसने मरे हुए कोबरा के दांत मृत महिला के हाथ पर गड़ा दिये थे, ताकि वह जांचकर्ताओं के सामने अपने गुनाह पर परदा डालते हुए हत्याकांड को सर्पदंश की घटना साबित कर सके.

मध्यप्रदेश में यूरिया की किल्लत, किसान सड़कों पर उतरे; केंद्र पर सौतेले व्यवहार का आरोप


चौहान ने बताया कि हत्याकांड के बाद पटेरिया और उसके परिवार वालों ने पुलिस को यही सूचना दी थी कि शिवानी की मौत सांप के काटने से हुई है. हालांकि पोस्टमॉर्टम की रिपोर्ट से तस्दीक हुई कि विवाहिता को दम घोंटकर मारा गया है. उन्होंने बताया, 'पटेरिया ने अपनी पत्नी की हत्या से 11 दिन पहले राजस्थान के अलवर से 5,000 रुपए में ब्लैक डेजर्ट प्रजाति का कोबरा सांप खरीदा था. हत्याकांड से पहले उसने इस सांप को अलमारी में छिपाकर रखा था.'

भोपाल गैस त्रासदी : पीढ़ियों को निगल रहा जहर, सरकारें यूनियन कार्बाइड के हितों की रक्षक

एएसपी ने बताया कि साजिश के तहत पटेरिया ने अपनी पत्नी के हत्याकांड के दौरान कोबरा को भी जान से मार दिया था. इस मूक प्राणी की हत्या पर उसके खिलाफ वन्य जीव संरक्षण अधिनियम के तहत भी मामला दर्ज किया गया है. हत्याकांड की साजिश में शामिल होने के आरोप में पटेरिया की बहन रिचा चतुर्वेदी (38) और उसके पिता ओमप्रकाश पटेरिया (73) को भी गिरफ्तार किया गया है. मामले की विस्तृत जांच जारी है. 

VIDEO : गैस पीड़ितों को न्याय, चुनावी मुद्दा नहीं

टिप्पणियां



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... पुलिसिया जुर्म फिर वायरल: CAA के खिलाफ प्रदर्शन कर रही महिलाओं को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, देखें VIDEO

Advertisement