NDTV Khabar

मध्य प्रदेश में Honey Trap रैकेट का मामला गरमाया, अब दिग्विजय सिंह ने 'बीजेपी कनेक्शन' को लेकर दागे सवाल 

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के बहुचर्चित 'हनी ट्रैप' मामले  (Honey Trap) को लेकर सूबे में सत्तारूढ़ कांग्रेस और भाजपा के बीच जारी बयानबाजी रविवार को तेज हो गयी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मध्य प्रदेश में Honey Trap रैकेट का मामला गरमाया, अब दिग्विजय सिंह ने 'बीजेपी कनेक्शन' को लेकर दागे सवाल 

दिग्विजय सिंह (फाइल फोटो)

इंदौर:

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के बहुचर्चित 'हनी ट्रैप' मामले  (Honey Trap) को लेकर सूबे में सत्तारूढ़ कांग्रेस और भाजपा के बीच जारी बयानबाजी रविवार को तेज हो गयी. वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह (Digvijaya Singh) ने मोहपाश गिरोह की गिरफ्तार सदस्यों में शामिल महिला के भाजपा से वर्षों पुराने कथित जुड़ाव को लेकर सिलसिलेवार तौर पर सवाल दागे और उसकी राजनीतिक पृष्ठभूमि की ओर इशारा करते हुए राज्य के प्रमुख विपक्षी दल पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, "जब जीतू जिराती भारतीय जनता युवा मोर्चा की मध्यप्रदेश इकाई के अध्यक्ष थे, तब श्वेता विजय जैन (मोहपाश गिरोह की गिरफ्तार सदस्य) इस इकाई की महामंत्री थीं या नहीं?" राज्यसभा सदस्य ने कहा, "आप (मीडिया) इस बात का पता लगाइये कि क्या श्वेता, भारतीय जनता युवा मोर्चा में सक्रिय थीं और तब संभाजी पाटिल निलंगेकर भारतीय जनता युवा मोर्चा की महाराष्ट्र इकाई के अध्यक्ष थे या नहीं? यही निलंगेकर आज महाराष्ट्र की देवेंद्र फड़णवीस नीत भाजपा सरकार के मंत्री हैं या नहीं?"  

Honey Trap Case: आरोपियों के तार बीजेपी और कांग्रेस से जुड़े, चंगुल में फंसे कई अफसर और नेता


दिग्विजय ने मीडिया को यह सलाह दी कि उसे यह भी पता लगाना चाहिये कि जब श्वेता का एक कथित वीडियो वायरल हुआ था, तब वह महाराष्ट्र में किस व्यक्ति के साथ रही थीं. सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, "मेरे पास पुलिस का जुटाया कोई रिकॉर्ड नहीं है. मैं तो आपसे (मीडिया) कह रहा हूं कि आप (श्वेता की राजनीतिक पृष्ठभूमि को लेकर) मेरे सवालों के जवाब ढूंढिये." उधर, भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष जीतू जिराती ने अपने बारे में दिग्विजय के संबंधित दावे को सरासर भ्रामक बताया. उन्होंने कहा कि भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष के रूप में उनके वर्ष 2009 से 2013 के कार्यकाल के दौरान मोहपाश गिरोह की गिरफ्तार महिला सदस्य श्वेता विजय जैन इस इकाई की महामंत्री नहीं, बल्कि प्रदेश कार्यसमिति सदस्य थीं. जिराती ने कहा, "मेरे इस कार्यकाल के दौरान श्वेता भाजयुमो की प्रदेश कार्यसमिति के करीब 325 सदस्यों में से एक थी. 

टिप्पणियां

Honey Trap Racket कमलनाथ सरकार को अस्थिर करने की बीजेपी की साजिश है, मध्‍यप्रदेश के मंत्री ने लगाया आरोप

तब मेरा उससे औपचारिक परिचय था." भाजपा के पूर्व विधायक ने कहा, "मेरा दिग्विजय से आग्रह है कि वह हनी ट्रैप मामले को गंभीरता से लें. प्रदेश की कांग्रेस सरकार सीबीआई या किसी भी एजेंसी से जांच कराते हुए मामले के दोषियों को सजा दिलाये. गिरोह के मोहपाश में फंसे लोगों के नाम सार्वजनिक करते हुए उन्हें इंसाफ दिलाया जाये." गौरतलब है कि पुलिस ने इन्दौर नगर निगम के अधीक्षण अभियंता हरभजन सिंह की शिकायत पर जांच के बाद बृहस्पतिवार को हनी ट्रैप गिरोह का औपचारिक खुलासा किया था. गिरोह के गिरफ्तार आरोपियों में श्वेता विजय जैन के अलावा, आरती दयाल, मोनिका यादव, श्वेता स्वप्निल जैन, बरखा सोनी तथा उनका ड्राइवर ओमप्रकाश कोरी शामिल हैं.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement