NDTV Khabar

इंदौर में रोड एक्सीडेंट में मारे गए शख्स के ठिकानों से मिला सेना का फर्जी आईडी कार्ड और वर्दी, पुलिस जांच जारी

इंदौर में सड़क दुर्घटना में दो दिन पहले मारे गये 26 वर्षीय व्यक्ति के ठिकानों से सेना का फर्जी पहचान पत्र और संदिग्ध सामग्री मिलने से चौकन्नी पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
इंदौर में रोड एक्सीडेंट में मारे गए शख्स के ठिकानों से मिला सेना का फर्जी आईडी कार्ड और वर्दी, पुलिस जांच जारी

प्रतीकात्मक तस्वीर

खास बातें

  1. मारे गए शख्स के ठिकानों से मिला सेना का फर्जी आईडी कार्ड
  2. संदिग्ध सामग्री मिलने से चौकन्नी पुलिस ने मामले की जांच शुरू की
  3. जांचकर्ताओं को शक कि शख्स अवैध गतिविधियों में शामिल था
मध्य प्रदेश:

इंदौर में सड़क दुर्घटना में दो दिन पहले मारे गये 26 वर्षीय व्यक्ति के ठिकानों से सेना का फर्जी पहचान पत्र और संदिग्ध सामग्री मिलने से चौकन्नी पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है. जांचकर्ताओं को इस शख्स के बारे में संदेह है कि वह अवैध गतिविधियों में शामिल था. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) प्रशांत चौबे ने बृहस्पतिवार को "पीटीआई-भाषा" को बताया, "सड़क हादसे में मंगलवार सुबह मारे गये जयप्रकाश झा (26) की दुर्घटनाग्रस्त कार और उसके घर से मिली संदिग्ध सामग्री के मद्देनजर हम सेना की खुफिया शाखा से तालमेल बनाकर जांच कर रहे हैं."

उन्होंने बताया कि पुलिस को मिली सूचना के मुताबिक मूलत: बिहार से ताल्लुक रखने वाला झा इंदौर से करीब 25 किलोमीटर दूर महू छावनी क्षेत्र के एक सैन्य संस्थान में कथित तौर पर चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के रूप में पदस्थ था. सेना में उसकी नियुक्ति की प्रामाणिकता और उसके जीवनकाल की संदिग्ध गतिविधियों के बारे में छानबीन की जा रही है.

Delhi: रिश्वत लेने के मामले में पुलिस उपनिरीक्षक को चार साल की कैद


पुलिस सूत्रों ने बताया कि झा की दुर्घटनाग्रस्त कार और महू के उसके घर से बरामद संदिग्ध सामग्री में फर्जी पहचान पत्र अहम है. इसमें उसे प्रादेशिक सेना का राजपत्रित अधिकारी बताते हुए महू के आर्मी वॉर कॉलेज में लेफ्टिनेंट के तौर पर पदस्थ दिखाया गया है. उसके ठिकानों से फौज के लेफ्टिनेंट की वर्दी, वायरलेस सेट और कुछ संदिग्ध दस्तावेज भी मिले हैं. उसके लैपटॉप और मोबाइल की जांच की जा रही है.

सूत्रों के मुताबिक जांचकर्ताओं को संदेह है कि झा नौजवानों को सेना में नौकरी दिलाने के बहाने उन्हें ठगने वाले गिरोह से जुड़ा था. इस शक को लेकर भी छानबीन जारी है कि कहीं वह भारतीय सेना की संवेदनशील जानकारी किसी शत्रु पक्ष को लीक तो नहीं कर रहा था.

टिप्पणियां

यूपी: मोबाइल देखने के झगड़े में युवक की पीट-पीटकर हत्‍या, अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज

सूत्रों ने बताया कि जांच में पुख्ता सुराग मिलने पर इस मामले में पुलिस द्वारा प्राथमिकी दर्ज की जा सकती है. झा मंगलवार सुबह सड़क हादसे के वक्त उस तेज रफ्तार कार में सवार था, जो यहां रालामंडल चौराहे के पास अनियंत्रित होकर सामने से आ रही दूसरी कार से जा भिड़ी थी. भीषण हादसे में झा के साथ उसके पिता, माता और उसके चार महीने के बेटे समेत छह लोगों की मौत हो गयी थी. 



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement