NDTV Khabar

मध्य प्रदेश: जमीन की लालच में दबंगों ने किसान को जिंदा जलाया, शिवराज ने कहा- 'बख्शा नहीं जाएगा'

भोपाल जिले में बैरसिया क्षेत्र के परसोरिया घाटखेड़ी गांव में पट्टे पर मिली खेती की जमीन पर अतिक्रमण हटाने के प्रयास में अनुसूचित जाति के एक किसान की गांव के ही अतिक्रमणकारी दबंगों ने कथित तौर पर खेत में जिंदा जलाकर हत्या कर दी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मध्य प्रदेश:  जमीन की लालच में दबंगों ने किसान को जिंदा जलाया, शिवराज ने कहा- 'बख्शा नहीं जाएगा'

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  1. दबंगों ने किसान को जिंदा जलाया
  2. जमीन की लालच में जिंदा जलाया
  3. चारों आरोपी पुलिस की गिरफ्त में
भोपाल: भोपाल जिले में बैरसिया क्षेत्र के परसोरिया घाटखेड़ी गांव में पट्टे पर मिली खेती की जमीन पर अतिक्रमण हटाने के प्रयास में अनुसूचित जाति के एक किसान की गांव के ही अतिक्रमणकारी दबंगों ने कथित तौर पर खेत में जिंदा जलाकर हत्या कर दी. पुलिस उपमहानिरीक्षक धमेन्द्र चौधरी ने आज बताया कि मामले में तुरंत कार्रवाई करते हुए हमने चारों आरोपियों को हत्या के मामले में गिरफ्तार कर लिया है. पीड़ित किसान की पहचान किशोरीलाल जाटव (70) के तौर पर की गयी है. गंभीर रूप से झुलसे किसान की कल अस्पताल ले जाने से पहले ही मौत हो गयी थी. चौधरी ने बताया, ‘‘ इस मामले की जांच के लिये हमने एएसपी संजय साहू के नेतृत्व में विशेष जांच दल :एसआईटी: का गठन किया है.’’ उन्होंने बताया कि चारों आरोपियों तीरन यादव, प्रकाश यादव, संजू यादव और बलवीर यादव को कल ही गिरफ्तार कर लिया गया था.’’

यह भी पढ़ें: 44 डिग्री तापमान में चार दिन कतार में, चना बिकने से पहले बूढ़े किसान की मौत

टिप्पणियां
उन्होंने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि गांव में पट्टे पर मिली खेती की जमीन पर दबंगों द्वारा किये गये अतिक्रमण को हटाने के लिये गये किशोरीलाल को तीन आरोपियों ने खेत में ही पकड़ लिया और चौथे आरोपी ने उस पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी. पीड़ित किसान के परिजन गंभीर रूप से जख्मी किसान को निकट के अस्पताल में ले गये लेकिन उसने रास्ते में ही दम तोड़ दिया. मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घटना की निंदा करते हुए कहा कि इसके लिये जिम्मेदार लोगों को बख्शा नहीं जायेगा. घटना की निंदा करते हुए प्रदेश के गृह मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने ट्वीट किया, ‘‘आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. मामले की जांच की जा रही है. पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के हरसंभव प्रयास किये जायेगें.’’

VIDEO: मध्य प्रदेश: लटेरी मंडी में किसान की जान गई
इस बीच, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने घटना को ‘‘दिल दहलाने वाला और दर्दनाक’’ बताते हुए कहा कि प्रदेश में सरकार कब दलितों के खिलाफ अत्याचारों को रोक पायेगी. कमलनाथ ने कांग्रेस नेता कैलाश मिश्रा और आसिफ जकी की एक समिति गठित कर उन्हें पीड़ित किसान परिवार से उनके गांव जाकर मिलने के निर्देश देते हुए इस मामले में शीघ्र विस्तृत रिपोर्ट पेश करने को कहा है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement