NDTV Khabar

मध्यप्रदेश: छिंदवाड़ा के गोटमार मेले में करीब 400 लोग घायल, कुछ लोगों को आई गंभीर चोट

मध्यप्रदेश में छिंदवाड़ा ज़िले के पांढुर्णा में परंपरागत गोटमार मेले में लगभग 400 लोग घायल हो गये.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मध्यप्रदेश: छिंदवाड़ा के गोटमार मेले में करीब 400 लोग घायल, कुछ लोगों को आई गंभीर चोट

मेले में करीब 400 लोग घायल

खास बातें

  1. गोटमार मेले में करीब 400 लोग घायल
  2. कुछ लोगों को आई गंभीर चोट
  3. पांढुर्णा के लोगों ने जीता झंडा
मध्य प्रदेश :

छिंदवाड़ा ज़िले के पांढुर्णा में परंपरागत गोटमार मेले में लगभग 400 लोग घायल हो गये. कुछ लोगों को गंभीर चोट भी आई है जिन्हें नागपुर रेफर किया गया है. शनिवार सुबह 9 बजे पांढुर्णा की जाम नदी में गोटमार मेले की शुरूआत चंडिका देवी की पूजन के बाद पलाश के पेड़ पर झंडा लगाकर हुई. इसके बाद पांढुर्णा और सांवरगांव के लोगों में नदी में लगे झंडे को तोड़ने के लिए दोनों तरफ से पथराव हुआ. सालों बाद इस बार पांढुर्णा के लोगों ने झंडा जीत लिया. छिंदवाड़ा जिला कलेक्टर श्रीनिवास शर्मा ने बताया कि इस परंपरा को पूरी तरह से रोकना मुश्किल है लेकिन इस बार मेले के दौरान शराब पीने और गोफन के इस्तेमाल को पूरी तरह से प्रतिबंधित किया गया. 

मेले में घायल लोगों के लिये वहीं इंतज़ाम किया गया. वहीं एसपी मनोज राय ने कहा लोगों पर नज़र रखने के लिये ड्रोन और सीसीटीवी कैमरों का इंतज़ाम किया गया. गोटमार मेले में सात एसडीएम, 19 टीआई, 36 एसआई, 55 एएसआई, दो सौ एसएफ जवान, 139 वन विभाग के जवान, 300 से ज्यादा पुलिस के जवान तैनात किए गए.


मध्य प्रदेश : मिड डे मील में फिर सामने आई लापरवाही, बच्चों को हाथ में दी जाती है रोटी

छिन्दवाड़ा के पांढुर्णा में जाम नदी पर होने वाले गोटमार खेल के पीछे वैसे तो कई कहानियां प्रचलित है. लेकिन मुख्य रूप से यह कहानी ज्यादा लोगों से सुनने को मिलती है. कहा जाता है कि वर्षों पहले सावरगांव गांव की लड़की को पांढुर्णा का लड़का शादी के लिए भगाकर ले जा रहा था तभी लडक़ी के पक्ष वालो ने इन भागते हूए प्रेमी युगल पर पत्थर बरसाने शुरू कर दिए. 

सोनिया गांधी से मिले मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ, राज्य में की नए अध्यक्ष की मांग

टिप्पणियां

इन पत्थरों की मार से गंभीर प्रेमी युगल को लड़के पक्ष के लोग चंडी माता के पास दर्शन के लिए ले गये जहां चमत्कार स्वरूप प्रेमी युगल ठीक हो गए तभी इस गोटमार मेले ने एक परंपरा का रूप ले लिया और सैंकड़ो वर्षो से लगातार इस खूनी खेल में दोनों गांव वाले एक दूसरे का खून बहा रहे हैं. (छिंदवाड़ा से सचिन पांडे के इनपुट के साथ)

Video: सोनिया गांधी से मिले मध्य प्रदेश के CM कमलनाथ



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... नागरिकता कानून को लेकर लोकसभा स्पीकर ने EU को लिखा खत,  कहा- CAA के खिलाफ प्रस्ताव गलत नजीर होगा

Advertisement