नियम तोड़कर बारात निकालना दूल्हे को पड़ा महंगा, शहरी निकाय अधिकारियों की पकड़ में आया और फिर...,देखें VIDEO

इंदौर में एक दूल्हे को कई अन्य लोगों के साथ गाड़ी में जाना महंगा पड़ गया. शहरी निकाय ने इस लापरवाही के लिए उस पर 2100 रुपये का जुर्माना लगाया.

नियम तोड़कर बारात निकालना दूल्हे को पड़ा महंगा, शहरी निकाय अधिकारियों की पकड़ में आया और फिर...,देखें VIDEO

सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन नहीं करने पर दूल्हे को लगा जुर्माना.

भोपाल:

इंदौर में एक दूल्हे को कई अन्य लोगों के साथ गाड़ी में जाना महंगा पड़ गया. शहरी निकाय ने इस लापरवाही के लिए उस पर 2100 रुपये का जुर्माना लगाया. सोमवार को अधिकारियों ने उसे नियमों की धज्जि‍यां उड़ाते हुए 12 अन्य लोगों के साथ एक ही गाड़ी में बैठे हुए पाया. उस पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने के लिए 1100 रुपये और मास्क नहीं पहनने के लिए 1000 रुपये का जुर्माना लगाया गया.

इंदौर नगर निगम (आईएमसी) के स्वास्थ्य अधिकारी विवेक गंगराड़े ने कहा, "कोविड-19 को लेकर जारी नियमित जांच के दौरान देवी अहिल्या मार्ग पर जब एक कार को रोका गया, तो इसमें धर्मेन्द्र निराले नामक दूल्हा 12 बारातियों के साथ बैठा मिला." उन्होंने बताया कि प्रशासन ने निराले की बारात में हालांकि 12 लोगों को शामिल होने की अनुमति दी थी. लेकिन दूल्हा और सभी 12 बाराती शारीरिक दूरी के नियम तोड़ते हुए एक ही गाड़ी में पास-पास बैठे थे.
 


यही नहीं, इन लोगों ने मास्क भी नहीं पहन रखे थे. गंगराड़े ने बताया कि आईएमसी के दल ने अलग-अलग प्रावधानों के तहत दूल्हे से कुल 2,100 रुपये का जुर्माना मौके पर ही वसूला. इंदौर, देश में कोविड-19 के प्रकोप से सबसे ज्यादा प्रभावित जिलों में शामिल है. आधिकारिक जानकारी के मुताबिक जिले में अब तक कोविड-19 के कुल 4,069 मरीज मिले हैं. इनमें से 174 लोगों की मौत हो चुकी है

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com