NDTV Khabar

गुंडों का कोई मानवाधिकार नहीं : शिवराज सिंह चौहान

पुलिस को अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई के सभी अधिकार हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गुंडों का कोई मानवाधिकार नहीं : शिवराज सिंह चौहान

मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान. (फाइल फोटो)

भोपाल: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पुलिस द्वारा मनचलों और गुंडों का जूलूस निकालने व उठक-बैठक लगवाए जाने को जायज ठहराते हुए कहा है कि गुंडों का कोई मानवाधिकार नहीं होता. राजधानी भोपाल में पुलिस द्वारा महिला सुरक्षा और सशक्तीकरण के लिए शुक्रवार सुबह को आयोजित 'वॉक-ए-कॉज' कार्यक्रम में मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि महिला अपराध में राज्य सरकार जीरो टॉलरेंस रखती है. पुलिस को अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई के सभी अधिकार हैं.

टिप्पणियां
उन्होंने मानवाधिकार के समर्थकों पर हमला बोलते हुए कहा कि गुंडों का कोई मानवाधिकार नहीं होता, कथित मानवाधिकार के पक्षधर भी इस बात को जान लें. महिला सुरक्षा हमारी प्राथमिकता है. बेटियों से जगह-जगह छेड़छाड़ करें और उनका घर से निकलना मुश्किल कर दें, ऐसे गुंडों का कोई मानवाधिकार नहीं होता.

'वॉक-ए-कॉज' कार्यक्रम में पुलिस महानिदेशक ऋषि कुमार शुक्ला, पुलिस महानिरीक्षक जयदीप प्रसाद सहित बड़ी संख्या में महिलाओं, युवतियों और बालिकाओं ने भी हिस्सा लिया. राजधानी के वीआईपी रोड पर आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने किन्नर भी पहुंचे और पुलिस की पहल को जायज ठहराया.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement