Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

शादी के 7 साल बाद भी प्रेमी को नहीं भूल पा रही थी महिला, पति बोला कि मैं तलाक देने को तैयार

एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने अपनी पत्नी को सिर्फ इसलिए तलाक देने का फैसला कर लिया है, ताकि उसकी पत्नी अपने पहले प्यार यानी प्रेमी के साथ खुशमय जिंदगी जिए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शादी के 7 साल बाद भी प्रेमी को नहीं भूल पा रही थी महिला, पति बोला कि मैं तलाक देने को तैयार

प्रतीकात्मक फोटो

भोपाल:

मध्य प्रदेश की भोपाल में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने अपनी पत्नी को सिर्फ इसलिए तलाक देने का फैसला कर लिया है, ताकि उसकी पत्नी अपने पहले प्यार यानी प्रेमी के साथ खुशमय जिंदगी जिए. यह कहानी भोपाल के कोलार क्षेत्र में रहने वाले दंपति राजेश और कल्पना (काल्पनिक नाम) की है. पत्नी कल्पना फैशन डिजाइनर और पति राजेश सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं. दोनों की सात साल पहले शादी हुई थी और उनके दो बच्चे भी हैं. पति और पत्नी के बीच अचानक 'वो' (प्रेमी) आ गया. प्रेमी के कारण पति-पत्नी के बीच दूरी बढ़ती गई. महिला अपने प्रेमी की खातिर घर तक छोड़ने को तैयार है. यह मामला कुटुंब न्यायालय में चल रहा है. 

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ BJP नेता कैलाश जोशी का 90 साल की उम्र में निधन


बताया गया है कि कल्पना का शादी से पहले एक युवक से प्रेम प्रसंग चल रहा था. शादी के बाद भी कल्पना के प्रेमी से रिश्ते रहे. प्रेमी दूसरी जाति का था, लिहाजा कल्पना के पिता अंतर्जातीय विवाह के लिए तैयार नहीं हुए और उसकी इच्छा के विपरीत शादी कर दी. दीवाने प्रेमी ने अब तक शादी नहीं की है. 

सरकारी अस्पताल में प्रसव के लिए घंटों इंताजर करती रही विधायक की बेटी, डॉक्टर नहीं थे मौजूद

पति-पत्नी के बीच की दूरियां कम हो, इसके लिए दोनों की काउंसिलिंग कराई गई मगर बात नहीं बनी. पति राजेश ने काउंसलर को बताया कि कल्पना तमाम प्रयासों के बाद भी उसके साथ खुश नहीं है. वह प्रेमी को ज्यादा चाहती है, उसे भुला नहीं पा रही है. वहीं कल्पना ने काउंसिलिंग के दौरान माना कि वह अपने पहले प्यार को भुला नहीं सकती. वह प्रेमी के साथ ही रहना चाहती है. राजेश अगर बच्चों को नहीं रखेंगे तो वह उनको अपने साथ रखेगी. 

टिप्पणियां

मध्य प्रदेश: पूर्व बीजेपी नेता का VIDEO वायरल होने के बाद फिर गरमाया हनी ट्रैप मामला

कुटुंब न्यायालय में राजेश ने अपनी पत्नी कल्पना की शादी उसके प्रेमी से कराने की बात कही, साथ ही तलाक की अर्जी भी दी है. काउंसलर शैल अवस्थी भी यह प्रेमकथा सुनकर हैरान रह गए. उनका कहना है कि यह पहला ऐसा मामला सामने आया है, जिसमें एक पति सिर्फ इसलिए तलाक देने को तैयार है, ताकि उसकी पत्नी अपने प्रेमी के साथ रह सके. नेकदिल पति बच्चों का पालन-पोषण करने को भी तैयार है. 
 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... धर्म साबित करने के लिए 'रुद्राक्ष' दिखाया, जान बचाने के लिए गिड़गिड़ाया - अब ऐसी हो गई है दिल्ली

Advertisement