जबलपुर : खुदकुशी करने के लिए जलप्रपात में लगाई महिला ने छलांग

फिलहाल महिला को मेडिकल अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उसका इलाज जारी है.

जबलपुर : खुदकुशी करने के लिए जलप्रपात में लगाई महिला ने छलांग

जबलपुर के धुआंधार जलप्रपात की तस्वीरें

खास बातें

  • पहले सभी ने महिला को मृत समझ लिया था.
  • महिला जलप्रपात के बीचोंबीच एक चट्टान में जाकर फंस गई थी.
  • पारिवारिक विवाद के चलते महिला जान देने के लिए आई थी.
जबलपुर :

दुनिया के पर्यटन स्थल पर अपनी खूबसूरती की छाप छोड़ चुके जबलपुर के धुआंधार जलप्रपात में जिंदगी और मौत के बीच हई जंग में एक महिला फंस गई. घटना उस वक्त की है जब नर्मदा पर बने जलप्रपात धुआंधार में गंगा नाम की एक महिला खुदकुशी करने कूद पड़ी. लेकिन महिला जलप्रपात के बीचो बीच एक चट्टान में जाकर फंस गई. जिसके बाद महिला पर स्थानीय लोगों और कुछ पर्यटकों की नजर पड़ी. महिला को लोग मृत समझ चुके थे लेकिन इसी बीच धुआंधार के नजदीक मौजूद कुछ स्थानीय बच्चों ने महिला की शरीर में कुछ हरकत देखी.

जिसके बाद लोगों को उम्मीद जागी कि महिला अभी जिंदा है और उसके बाद शुरू हो गया देश के सबसे खतरनाक जलप्रपात में एक महिला की जान बचाने का रेस्क्यू ऑपरेशन. इस पूरे घटना में स्थानीय गोताखोर कुछ बच्चों ने महिला की जान बचाने में सबसे ज्यादा अहम भूमिका निभाई है.

यह भी पढ़ें : प्रतापगढ़: दहेज प्रताड़ना से तंग आकर महिला ने बेटी को जहर खिलाने के बाद की खुदकुशी

खतरनाक जलप्रपात के बीच फंसी महिला को बाहर निकालने के लिए गोताखोर बच्चों के पास किसी भी तरह का कोई भी संसाधन मौजूद नहीं था. लोग महिला को बाहर निकालने के लिए एक रस्सी का सहारा लेते हैं एक बच्चा रस्सी को लेकर महिला के पास जाता है और उसके शरीर में रस्सी को बंधता है.

इस दौरान महिला बचने की कोशिश करती है लेकिन नर्मदा के तेज बहाव के कारण महिला के शरीर से रस्सी छूट जाती है. इसके बाद बचाव गोताखोर वापस आते हैं इस दौरान भेड़ाघाट थाना पुलिस को भी सूचना दी जाती है. जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस और स्थानीय गोताखोरों दूसरी रस्सी लेकर फिर से महिला के पास जाते हैं और इस बार महिला के शरीर और हाथ में रस्सी बांधते हैं. इसके बाद रस्सी की मदद से महिला को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया. इस पूरे रेस्क्यू में सबसे बड़ा सवाल यह खड़ा होता है जबलपुर के पर्यटन स्थल भेड़ाघाट में आखिरकार सुरक्षा और रेस्क्यू के कोई भी संसाधन मौजूद नहीं थे.

VIDEO : जीएसटी-नोटबंदी से परेशान व्‍यापारी ने की खुदकुशी​

भेड़ाघाट में यह कोई पहली घटना नहीं है इसके पहले भी कई लोग इस खतरनाक जलप्रपात से कूद कर अपनी जान दे चुके हैं. बावजूद इसके खतरनाक जलप्रपात के पास ना तो पुलिस चौकी बनाई गई है और ना ही रेस्क्यू करने के लिए पर्याप्त संसाधन मौजूद है. खुदकुशी करने पहुंची महिला का नाम गंगा बताया जा रहा है जो कटनी की रहने वाली है. पारिवारिक विवाद के चलते महिला जान देने के लिए जबलपुर के भेड़ाघाट आ पहुंची. फिलहाल महिला को मेडिकल अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उसका इलाज जारी है.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com