NDTV Khabar

मध्यप्रदेश: कमलनाथ सरकार दूध पार्लर पर बेचेगी कड़कनाथ मुर्गे का मांस, बीजेपी ने जताया ऐतराज

मध्यप्रदेश में कांग्रेस नीत सरकार दूध के पार्लर पर कड़कनाथ मुर्गे का मांस बेचने की योजना बना रही है, ताकि इसकी बढ़ती मांग को पूरा किया जा सके.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मध्यप्रदेश: कमलनाथ सरकार दूध पार्लर पर बेचेगी कड़कनाथ मुर्गे का मांस, बीजेपी ने जताया ऐतराज

कमलनाथ सरकार दूध पार्लर पर बेचेगी कड़कनाथ मुर्गे का मांस

भोपाल :

मध्यप्रदेश में कांग्रेस नीत सरकार दूध के पार्लर पर कड़कनाथ मुर्गे का मांस बेचने की योजना बना रही है, ताकि इसकी बढ़ती मांग को पूरा किया जा सके. हालांकि, भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा ने सरकार के इस कदम पर यह कहते हुए ऐतराज जताया है कि इससे हिन्दुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचेगी क्योंकि हिंदू धर्म में गाय और उसका दूध ‘पवित्र' माना जाता है. मध्यप्रदेश के पशुपालन मंत्री लाखन सिंह यादव ने बताया कि मध्यप्रदेश राज्य पशुधन और कुक्कुट विकास निगम ने कड़कनाथ की बढ़ती मांग को देखते हुए भोपाल के वैशाली नगर क्षेत्र में दूध के पार्लर पर कड़कनाथ मुर्गे का मांस बेचने की योजना शुरू की है. 

मध्य प्रदेश: आगर मालवा में बारिश बनी आफत, पानी भरने के बाद लोग छतों पर रहने को मजबूर


उन्होंने कहा, ‘हमने प्रदेश की राजधानी भोपाल में कड़कनाथ मुर्गे का मांस बेचने के लिए प्रायोगिक तौर पर एक बूथ स्थापित किया है. हम ऐसे पार्लर पूरे राज्य में खोलने की योजना पर चर्चा कर रहे हैं.' यादव ने कहा कि हालांकि, इस योजना का भविष्य पायलट प्रोजेक्ट की सफलता पर निर्भर है. उन्होंने कहा कि वर्तमान में कड़कनाथ का मांस 900 रुपये प्रति किलोग्राम की दर पर बेचा जा रहा है. इसी बीच, भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा ने सरकार के इस कदम पर आपत्ति जताते हुए कहा कि हिंदू धर्म में गाय और उसका दूध बेहद पवित्र माना जाता है. इसका कई त्योहारों में और उपवास में इस्तेमाल किया जाता है. गाय का दूध और कड़कनाथ का मांस एक बूथ में नहीं बेचा जाना चाहिए.  

टिप्पणियां

45 सालों से कांच खा रहा मध्य प्रदेश का यह वकील, VIDEO देखकर रह जाएंगे हैरान

उन्होंने कहा कि वह सरकार से दूध और कड़कनाथ का मांस बेचने के लिए अलग अलग पार्लर स्थापित करने का आग्रह करेंगे. इस आपत्ति के बारे में पूछे जाने पर मंत्री ने स्पष्ट किया कि दोनों चीजें बेचने के लिए पार्लर के भीतर अलग अलग केबिन बनाये जाएंगे. मालूम हो कि कड़कनाथ मुर्गे की उत्पत्ति मध्यप्रदेश के झाबुआ जिले में हुई है. विशेषज्ञों के अनुसार कड़कनाथ के मांस में आयरन एवं प्रोटीन की मात्रा बहुत अधिक होती है, जबकि कॉलेस्ट्राल की मात्रा अन्य प्रजाति के मुर्गों से काफी कम पायी जाती है. इसलिए यह अन्य प्रजातियों के मुर्गों से अधिक कीमत में बेचा जाता है. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement