NDTV Khabar

सूखी नदी पर पुल बना रहे थे मजदूर, अचानक आ गई पानी की तेज धार, फिर...देखें- VIDEO

मध्य प्रदेश में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. यहां बुरहानपुर में एक सूखी नदी पर पुल बनाने का काम चल रहा था, इस बीच अचानक नदी में पानी आ गया और कर्मचारी पानी की तेज धार में फंस गए. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक नदी पर 7 मजदूर पुल बनाने के काम में लगे थे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सूखी नदी पर पुल बना रहे थे मजदूर, अचानक आ गई पानी की तेज धार, फिर...देखें- VIDEO

पानी के बहाव में फंसे मजदूरों को बचा लिया गया.

खास बातें

  1. मध्य प्रदेश के बुरहानपुर का मामला
  2. सूखी नदी में चल रहा था पुल बनाने का काम
  3. बारिश के बाद अचानक नदी में आ गया पानी का बहाव
नई दिल्ली :
टिप्पणियां

मध्य प्रदेश में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. यहां बुरहानपुर में एक सूखी नदी पर पुल बनाने का काम चल रहा था, इस बीच अचानक नदी में पानी आ गया और कर्मचारी पानी की तेज धार में फंस गए. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक नदी पर 7 मजदूर पुल बनाने के काम में लगे थे. इसी बीच अचानक नदी में पानी की तेज धार आ गई और इस धार में सभी मजदूर फंस गए. एजेंसी द्वारी जारी वीडियो में मजदूर नदी की धार में फंसे दिखाई देते हैं. हालांकि बाद में उन्हें सुरक्षित बचा लिया जाता है. आपको बता दें कि बीते साल मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले में भी इसी तरह की एक घटना सामने आई थी. यहां बारिश के कारण नाले का जलस्तर अचानक बढ़ गया था और इसकी वजह से कार पानी के तेज बहाव में बह गई थी. 

इस दुर्घटना में  कार सवार सभी चार लोगों की मौत हो गई थी . पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, "धामनार और गुलियाना गांव के बीच पड़ने वाले नाले का जलस्तर बढ़ा हुआ था और सड़क के दोनों ओर वाहनों को रोका जा रहा था. इस बीच एक कार में सवार चार लोगों को ग्रामीणों ने नाला पार करने से रोका मगर वे नहीं माने". जैसे ही कार नाले की पुलिया के बीच तक पहुंच पाती उससे पहले ही पानी के बहाव में कार बह गई. मौके पर मौजूद लोगों ने डायल 100 और 108 को सूचना दी. दोनों दल मौके पर पहुंचे, राहत और बचाव कार्य चलाकर कार में सवार चारों लोगों को निकालकर देर शाम जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने चारों को मृत घोषित कर दिया. 




Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement