NDTV Khabar

मध्यप्रदेश में चुनावी वैतरणी पार करने के लिए अब नर्मदा की भक्ति में जुटी कांग्रेस

पहले सरकार में शामिल रहे कंप्यूटर बाबा ने अब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह पर अवैध उत्खनन में शामिल होने का आरोप लगाया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मध्यप्रदेश में चुनावी वैतरणी पार करने के लिए अब नर्मदा की भक्ति में जुटी कांग्रेस

मध्यप्रदेश के जबलपुर शहर में राहुल गांधी ने रोड शो किया.

खास बातें

  1. कंप्यूटर बाबा और कांग्रेस ने नर्मदा मंत्रालय बनाने की मांग उठाई
  2. चित्रकूट में राम भक्त बनकर आए थे राहुल गांधी
  3. जबलपुर में राहुल ने नर्मदा नदी की आरती की
भोपाल: नर्मदा मध्यप्रदेश में अब नया चुनावी मुद्दा है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अब नर्मदा भक्त के रूप में प्रचारित होने लगे हैं. उन्होंने जबलपुर में नर्मदा की आरती के बाद रोड शो किया तो भाजपा ने इस पर भी सवाल उठा दिए.

कुछ दिनों पहले तक सरकार में शामिल रहे कंप्यूटर बाबा के साथ कांग्रेस ने भी नर्मदा मंत्रालय बनाने की मांग रखी. कंप्यूटर बाबा ने तो इस मुद्दे पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को जमकर लपेटते हुए आरोप लगाए कि वे अवैध उत्खनन में शामिल हैं.
        
राम वन पथ गमन के रास्ते, कांग्रेस पहले राम के नाम पर चली. उस वक्त राहुल चित्रकूट आए तो राम भक्त के अवतार में, दूसरी बार जबलपुर पहुंचे तो नर्मदा की आरती की... हो भी क्यों न मध्यप्रदेश में नर्मदा नदी का धार्मिक के साथ-साथ राजनीतिक महत्व भी है. लिहाज़ा चुनावों से पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नर्मदा सेवा यात्रा निकाली तो दिग्विजय सिंह ने इसकी परिक्रमा की.

यह भी पढ़ें :  राहुल गांधी की सुरक्षा में चूक, रोड शो के दौरान 'धमाका', देखें VIDEO
   
कंप्यूटर बाबा सरीखे लोग नर्मदा किनारे अवैध उत्खनन पर जब यात्रा निकालने लगे तो उन्हें लाल बत्ती मिल गई. अब सरकार को छोड़ दिया तो नर्मदा मैया के लिए मंत्रालय मांगा, अपनी पूर्व सरकार के मुखिया को कठघरे में खड़ा कर दिया. उन्होंने कहा कि शिवराज नहीं चाहते हैं रेत उत्खनन रुके, धिक्कार है उनके नर्मदा तट के होने का. राज्य में अगर गौ की जरूरत है तो नर्मदा मंत्रालय की भी.
 
यह भी पढ़ें :  दिग्विजय सिंह को काले झंडे दिखाने वालों को कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जमकर पीटा
     
कांग्रेस भी कंप्यूटर बाबा के सुर में सुर मिला रही है. कुल मिलाकर कोशिश नर्मदा की भक्ति कर चुनावी वैतरणी पार करने की है. कांग्रेस प्रवक्ता शोभा ओझा ने कहा कांग्रेस के लिए नर्मदा मां राजनीति का हथकंडा नहीं है. बीजेपी ने अवैध उत्खनन से नर्मदा मैया को छलनी कर दिया. उसको खनन माफिया से बचाना कांग्रेस का प्रयास रहेगा.

टिप्पणियां
बीजेपी प्रवक्ता राहुल कोठारी ने कहा बीजेपी मां नर्मदा को राजनीतिक दृष्टि से नहीं देखती. वह हमारी श्रद्धा का केन्द्र हैं. उनका आशीर्वाद शिवराज सिंह पर बना रहता है, वे उनके पुत्र कहलाते हैं, चाहे कंप्यूटर बाबा कुछ बोलें या कांग्रेस.

VIDEO : कांग्रेस की राम वन पथ गमन यात्रा 
 
नर्मदा नदी प्रदेश की जीवनदायिनी मानी जाती है. राज्य की कुल 230 विधानसभा सीटों में नर्मदा का मुद्दा सीधे तौर पर प्रदेश की 50 विधानसभा सीटों को प्रभावित करता है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement