NDTV Khabar

चुनावी साल में मध्‍यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने फिर लगाई घोषणाओं की झड़ी

शिवराज सिंह चौहान ने इस मौक़े पर कहा, 'मैं मुख्यमंत्री किसान उत्पादकता योजना लागू करने की घोषणा करता हूं, किसान भीख नहीं मांगता अपने पसीने की कीमत मांगता है.'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
चुनावी साल में मध्‍यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने फिर लगाई घोषणाओं की झड़ी
भोपाल:

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को भोपाल के जंबूरी मैदान से फिर घोषणाओं की झड़ी लगा दी. बीजेपी ने सम्मेलन के लिये ढाई लाख किसानों को जुटाने का दावा किया लेकिन कई कुर्सियां खाली थीं. कांग्रेस ने कहा कि महज़ 20-25000 किसान जुटे उसमें भी कई सरकारी कर्मचारी और पार्टी पदाधिकारी थे. शिवराज सिंह चौहान ने इस मौक़े पर कहा, 'मैं मुख्यमंत्री किसान उत्पादकता योजना लागू करने की घोषणा करता हूं, किसान भीख नहीं मांगता अपने पसीने की कीमत मांगता है.' इसके साथ चौहान ने गेंहू और धान पर 200 रुपये बोनस, एक क्लिक से 3.97 लाख किसानों के खाते में भावांतर के 620 करोड़ का भुगतान, भावांतर में बदलाव के संकेत, 5 सालों में 38000 करोड़ रुपये खेती के कामों में खर्च करने का ऐलान, फसलों के भंडारण के लिये वेयर हाऊस का किराया देने, किसान क्रेडिट कार्ड को रूपे कार्ड में बदले जाने, ट्रांसफार्मर लाने पर ढुलाई का खर्चा सरकार द्वारा देने, डिफ़ाल्टर किसानों को 0% ब्याज पर कर्ज़ देने के लिये मुख्यमंत्री ऋण समाधान योजना का भी ऐलान किया.

चुनावी साल में शिवराज सिंह ने धड़ाधड़ घोषणाएं कीं, तालियां बटोरीं, लेकिन हकीकत की एक तस्वीर बैरसिया से आए शुभम साहू के हाथ में दिखी जिनके चेक में लिखा है 1,10,659 का भुगतान हो गया लेकिन शुभम ने कहा, 'मैंने उड़द बेचा था, दिसंबर के महीने में आधा पेमेंट हो गया है निवेदन है पूरा हो जाए. अभी 74000 आया है, बाकी नहीं आया.'


यह भी पढ़ें : किसानों ने बताई अपनी परेशानी तो अफसर ने कहा, खेती छोड़कर बन जाओ मजदूर

भीड़ में कई कुर्सियां खाली थीं, जो भरी थीं उसमें बैठे किसानों का भी यही कहना था कि भावांतर का पैसा मिला नहीं है. राजधानी के अलावा इस कार्यक्रम को राज्य के दूसरे जिलों में सुना गया लेकिन आगर-मालवा में लोग नाश्ता लूटने में व्यस्त रहे तो पन्ना में उनके कैबिनेट की वरिष्ठ मंत्री कुसुम मेहदले को मुख्यमंत्री का भाषण 'लोरी सरीखा' लगा और वो मंच पर सोती नज़र आईं.

टिप्पणियां

VIDEO: क्‍या मध्‍य प्रदेश में भावांतर भुगतान योजना से किसानों को हो रहा है फ़ायदा?

विपक्षी कांग्रेस सम्मेलन में भीड़ से लेकर सरकार की लोकप्रियता पर सवाल उठा रही है. कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता के के मिश्रा ने कहा, 'मध्यप्रदेश का किसान इस झूठ को सुनते सुनते परेशान हो गया है. सम्मेलन में 20000 किसान भी नहीं थे. कलेक्टर बस कंडक्टर जैसे भोपाल चलो की आवाज लगा रहे थे, उससे समझ जाएं कि मुख्यमंत्री की कितनी लोकप्रियता है.' अशोकनगर की मुंगावली और शिवपुरी की कोलारस विधानसभा उपचुनाव के मद्देनजर दोनों जिलों में भावांतर भुगतान योजना के तहत अंतर की राशि का भुगतान फिलहाल नहीं हुआ.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement