मध्यप्रदेश : SC/ST एक्ट के खिलाफ 6 सितंबर को बंद के मद्देनजर पुलिस सतर्क

अनेक सवर्ण संगठनों ने सोशल मीडिया के जरिए बंद का आह्वान किया, प्रदेश भर के पुलिस अधीक्षकों को सतर्क रहने की हिदायत

मध्यप्रदेश : SC/ST एक्ट के खिलाफ 6 सितंबर को बंद के मद्देनजर पुलिस सतर्क

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  • सोशल मीडिया पर रखी जाएगी नजर
  • मुरैना, भिंड एवं शिवपुरी में धारा 144 लगाई गई
  • उत्तरप्रदेश में भी बंद का आह्वान किया गया
भोपाल:

छह सितंबर के कथित भारत बंद को लेकर पुलिस मुख्यालय ने अलर्ट जारी किया है. सुप्रीम कोर्ट के आदेश के खिलाफ केंद्र सरकार द्वारा लाए गए एससी/एसटी एक्ट के विरोध में कुछ सवर्ण संगठनों द्वारा बंद का आह्वान किया गया है. 

आईजी इंटेलिजेंस मकरंद देउस्कर ने इस बारे में बयान जारी किया है. बताया जाता है कि छह सितंबर को सोशल मीडिया के जरिए बंद का आह्वान अलग-अलग संगठनों ने किया है. बंद के इस आह्वान के मद्देनजर प्रदेश भर के पुलिस अधीक्षकों को सतर्कता बरतने की हिदायत दी गई है.

यह भी पढ़ें : SC/ST एक्ट का विरोध होने पर महिला सांसद ने कहा- तलवार से मेरा गला काट दीजिए

मध्य प्रदेश के तीन जिलों मुरैना, भिंड एवं शिवपुरी में एहतियात के तौर पर मंगलवार को धारा 144 तत्काल प्रभाव से लगा दी गई है. यह सात सितम्बर तक प्रभावी रहेगी.

यह भी पढ़ें : SC/ST एक्ट पर बीजेपी सांसद कलराज मिश्र का बयान, बोले- जमीन पर इसका दुरुपयोग हो रहा है

पुलिस अधिकारियों से कहा गया है कि संगठनों के प्रमुखों से मिलकर समन्वय स्थापित करें. उनके आगामी कार्यक्रम के हिसाब से तैयारियां की जाएं. आवश्यक प्रतिबंधात्मक कार्रवाई करने के भी निर्देश दिए गए हैं. पुलिस द्वारा सोशल मीडिया पर भी नजर रखी जाएगी. भड़काऊ मैसेज भेजने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

Newsbeep

VIDEO : SC/ST एक्ट का हो रहा दुरुपयोग

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मध्यप्रदेश में पिछले एक सप्ताह से एससी-एसटी एक्ट के खिलाफ विरोध प्रदर्शन चल रहे हैं. इस दौरान सीएम शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ, कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया समेत कई नेताओं एवं मंत्रियों को आंदोलनकारियों ने काले झंडे दिखाए. छह सितम्बर को समूचे मध्य प्रदेश के अलावा उत्तर प्रदेश में भी बंद आहूत किए जाने की अपील की गई है. इसकों लेकर दोनों राज्यों की पुलिस सतर्क हो गई है.