पुलिसकर्मियों पर हमला करने के मामले में COVID-19 मरीज पर लगा था NSA, अब अस्पताल से हुआ फरार...

Madhya Pradesh Coronavirus Updates: 11 अप्रैल से जांच के नतीजे आने के बाद वो जबलपुर के नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज अस्पताल के कोविड -19 के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती था, जहां से रविवार शाम करीब 4:30 बजे वो भाग गया.

पुलिसकर्मियों पर हमला करने के मामले में COVID-19 मरीज पर लगा था NSA, अब अस्पताल से हुआ फरार...

प्रतीकात्मक फोटो.

भोपाल:

Madhya Pradesh Coronavirus Updates: इंदौर में पुलिसकर्मी पर हमले का आरोपी 30 साल का जावेद खान, जबलपुर के अस्पताल से फरार हो गया है. हमले के बाद जावेद की राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम (एनएसए) के तहत गिरफ्तारी हुई थी. कोरोना जांच में जावेद संक्रमित भी पाया गया था. 11 अप्रैल से जांच के नतीजे आने के बाद वो जबलपुर के नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज अस्पताल के कोविड -19 के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती था, जहां से रविवार शाम करीब 4:30 बजे वो भाग गया. जबलपुर के पुलिस अधीक्षक अमित सिंह ने बताया कि जावेद की गिरफ्तारी पर 10,000 रुपये का इनाम घोषित किया गया है. उन्होंने कहा, “हमने जबलपुर में उसकी तस्वीरों वाले पोस्टर लगाए हैं और उन पोस्टरों को सोशल मीडिया पर भी डाला है. साथ ही, सभी निकटवर्ती जिलों को इस मामले में सतर्क कर दिया गया है.”

जावेद का इलाज 11 अप्रैल से अस्पताल के एक अलग वार्ड में किया जा रहा था. रविवार को वार्ड के बाहर सुरक्षाकर्मी तैनात रहने के बावजूद वो भाग निकलने में कामयाब रहा. जावेद को मामले के एक अन्य आरोपी के साथ 9 अप्रैल को इंदौर से सेंट्रल जेल जबलपुर लाया गया था. दोनों में संक्रमण के लक्षण देखते हुए जेल अधीक्षक गोपाल ताम्रकार ने उन्हें जेल के अंदर बंद करने से मना कर दिया था और उन्हें मेडिकल परीक्षण के लिए विक्टोरिया अस्पताल भेज दिया था. 

इस मामले में चार पुलिसकर्मियों को निलंबित किया गया है. इस प्रकरण में आरोपी जावेद के विरुद्ध अपराध दर्ज किया जाने के साथ दो पुलिसकर्मियों के विरुद्ध आईपीसी और डिजास्टर मैनजमेंट एक्ट के अंतर्गत अपराध दर्ज किया है. आरोपी जावेद की गिरफ्तारी के लिए पुलिस महानरीक्षक ने 25000 रुपये का इनाम घोषित किया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com