NDTV Khabar

मध्यप्रदेश के विंध्य क्षेत्र में बीजेपी में दरार, सांसद ने धमकाया तो एमएलए ने सोशल मीडिया पर लताड़ा

सतना के बीजेपी सांसद गणेश सिंह ने सार्वजनिक रूप से पार्टी के उन लोगों को धमकाया जिन्होंने चुनाव में कथित रूप से उनके प्रतिद्वंद्वी प्रत्याशी के पक्ष में प्रचार किया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मध्यप्रदेश के विंध्य क्षेत्र में बीजेपी में दरार, सांसद ने धमकाया तो एमएलए ने सोशल मीडिया पर लताड़ा

सतना के बीजेपी एमएलए गणेश सिंह ने चुनाव में कथित रूप से प्रतिद्वंद्वी के लिए काम करने वाले पार्टी कार्यकर्ताओं को धमकाया.

खास बातें

  1. सांसद ने कहा- चुनाव में साथ न देने वाले कार्यकर्ता मेरे पास न आ जाना
  2. बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी ने कहा- सांसद ने अपना मानसिक संतुलन खो दिया
  3. कहा- यह उनकी लोकप्रियता की नहीं, पीएम मोदी और अमित शाह की जीत है
भोपाल:

हाल के लोकसभा चुनावों में बड़ी जीत के बावजूद, मध्यप्रदेश के विंध्य क्षेत्र में बीजेपी के भीतर दरारें सामने आ गई हैं. चार बार सतना लोकसभा सीट से सांसद गणेश सिंह ने सार्वजनिक रूप से उन लोगों को धमकाया है जिन्होंने उनके मुताबिक चुनावों में उनके खिलाफ प्रचार किया था.

सिंह के सार्वजनिक बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए मैहर सीट से बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट में लिखी है कि सांसद ने अपना मानसिक संतुलन खो दिया है.

त्रिपाठी ने कहा है कि ''अप्रत्याशित जीत से सांसद सतना गणेश सिंह अपना मानसिक संतुलन खो बैठे हैं और वे यह भूल चुके हैं कि मिली जीत उनकी लोकप्रियता नहीं है अपितु यह जीत देश के यशश्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कुशल रणनीतिकार अमित शाह जी की है. यह जीत केवल सतना में नहीं हुई बल्कि पूरे देश में हुई है. इसके लिए मैं देश के सम्माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी और अमित शाह जी का आभार प्रकट करता हूं. साथ ही सतना जिले सहित पूरे देश की जनता का आभार प्रकट करता हूं, जिन्होंने राष्ट्रहित को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय जनता पार्टी पर अपना विश्वास जताया.''


नारायण त्रिपाठी ने कहा कि ''जीत के जश्न में डूबे सांसद ने नागौद में जिस तरह का उद्बोधन दिया वह अत्यंत निंदनीय है. उसकी जितनी भर्त्सना की जाए कम होगी. साथ ही वे जिस तरह से अपने प्यादों से बयानबाजी करा रहे हैं वह बर्दाश्त करने योग्य नहीं है.''
         
गणेश सिंह विंध्य क्षेत्र से ताकतवर कुर्मी नेता हैं, जिन्होंने चौथी बार सतना सीट पर बीजेपी का परचम फहराया है. इस बार गणेश सिंह की जीत 2.81 लाख से अधिक मतों की रही.
 

BJP विधायक से मिलने आई NCP महिला समर्थक को जड़े थप्पड़, लात-घूसों से की पिटाई, देखें VIDEO      

नागोद विधानसभा क्षेत्र में धन्यवाद सभा को संबोधित करते हुए, सिंह ने उन भाजपा कार्यकर्ताओं और नेताओं पर तीखा हमला किया, जिन्होंने कथित तौर पर प्रतिद्वंद्वी उम्मीदवार के लिए प्रचार किया था. उन्होंने कहा कि “मैं उन सभी को जानता हूं जिन्होंने भाजपा से होने के बावजूद प्रतिद्वंद्वी पार्टी के उम्मीदवार के लिए काम किया है. इसलिए मैं ऐसे कार्यकर्ताओं को स्पष्ट रूप से कह रहा हूं कि मेरे पास गलती से भी न आएं, क्योंकि मैं उनके लिए ऐसे शब्दों का उपयोग कर सकता हूं, जो अच्छा नहीं लगेगा. यदि पार्टी का उम्मीदवार आपकी पसंद का नहीं था, तो आपको घर वापस रहना चाहिए और उसके लिए प्रचार नहीं करना चाहिए, बल्कि आपने प्रतिद्वंद्वी पार्टी के उम्मीदवार के लिए खुलकर प्रचार किया."

            
सतना जिले के बीजेपी सूत्रों के अनुसार, सिंह ने रामपुर-बघेलान के विधायक विक्रम सिंह और मैहर के विधायक नरेंद्र त्रिपाठी के अलावा सतना सीट से पूर्व विधायक शंकरलाल तिवारी पर निशाना साधा है. उन्हें लगता है कि जातिगत समीकरणों की वजह से इन नेताओं ने कांग्रेस उम्मीदवार राजाराम त्रिपाठी का समर्थन किया था.

प्रज्ञा ठाकुर के बाद अब इस BJP विधायक ने गोडसे को बताया राष्ट्रभक्त       

इस बार बीजेपी ने विंध्य क्षेत्र की सभी चार लोकसभा सीटें जीतीं. सन 2018 के विधानसभा चुनावों में भी विंध्य में बीजेपी की लहर थी. मोदी 2.0 की लहर के कारण, बीजेपी के सभी चार उम्मीदवार हिमाद्री सिंह (शहडोल), रीति पाठक (सीधी), गणेश सिंह (सतना) और जनार्दन मिश्रा (रीवा) ने भारी अंतर से जीत हासिल की.

VIDEO : बीजेपी एमएलए ने महिला को सरेआम पीटा

टिप्पणियां

( सतना से ज्ञान शुक्ला के इनपुट के साथ)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement