NDTV Khabar

मध्य प्रदेश : बिजली कर्मियों ने विभिन्न मांगों को लेकर किया काम बंद आंदोलन

'बिजली कंपनियों द्वारा कर्मचारियों की आउट सोर्सिग की जा रही है, इस कारण भी बिजली कर्मचारियों में असंतोष है.

11 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
मध्य प्रदेश : बिजली कर्मियों ने विभिन्न मांगों को लेकर किया काम बंद आंदोलन

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

खास बातें

  1. बिजली कर्मी अपनी मांगों को लेकर असहयोग आदोलन पर बैठ गए है.
  2. बिजली कंपनियों द्वारा कर्मचारियों की आउट सोर्सिग की जा रही है.
  3. कर्मचारियों की कमी पूरी करने के लिए भर्ती की जाए, यह मांग भी की है.
भोपाल: मध्य प्रदेश के लगभग 50 हजार विद्युतकर्मी अपनी विभिन्न मांगों को लेकर शुक्रवार को काम बंद असहयोग आंदोलन पर हैं. इस आंदोलन से फिलहाल बिजली आपूर्ति प्रभावित नहीं हुई है, मगर आंदोलनकारियों ने मांगें न मानने पर बिजली आपूर्ति में भी असहयोग करने की चेतावनी दी है. मप्र बिजली फेडरेशन फोरम के संयोजक वी. के. परिहार ने बताया कि राज्य के बिजली कर्मचारियों को सातवें वेतनमान का लाभ दिलाने, संविदा कर्मियों को नियमित करने और बिजली उपभोक्ताओं के अनुपात में कर्मचारियों की संख्या बढ़ाने को लेकर प्रदेश भर के कर्मचारी और अधिकारी शुक्रवार को एक दिवसीय असहयोग आंदोलन पर हैं.

परिहार ने आगे कहा, 'बिजली कंपनियों द्वारा कर्मचारियों की आउट सोर्सिग की जा रही है, इस कारण भी बिजली कर्मचारियों में असंतोष है. कंपनी द्वारा कर्मचारियों की कमी पूरी करने के लिए भर्ती की जाए, यह मांग भी कर्मचारियों की है.'

यह भी पढे़ं : दिल्ली में अब इस वजह से बढ़ेंगे बिजली के दाम

VIDEO : राजस्थान में अब सौर ऊर्जा छतों से बनेगी बिजली​
परिहार ने आगे कहा, 'अभी एक दिन का असहयोग आंदोलन किया जा रहा है, लेकिन सरकार ने मांगों पर जल्द फैसला नहीं लिया तो बड़ा आंदोलन किया जाएगा, जिससे प्रदेश में विद्युत आपूर्ति भी प्रभावित हो सकती है.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement