NDTV Khabar

टाइगर स्टेट का दर्जा हासिल करने वाले मध्यप्रदेश में एक सप्ताह में तीन बाघों की मौत

पिछले एक सप्ताह में आपसी संघर्ष के कारण मध्यप्रदेश में तीन बाघों की मौत के मामले सामने आए

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
टाइगर स्टेट का दर्जा हासिल करने वाले मध्यप्रदेश में एक सप्ताह में तीन बाघों की मौत

मध्यप्रदेश में एक सप्ताह में तीन बाघों की मौत हो गई है.

खास बातें

  1. उमरिया जिले के घुनघुटी रेंज में दो वर्षीय बाघ शावक का शव मिला
  2. बांधवगढ़ में एक बाघिन और उसके एक शावक का शव बरामद
  3. बाघों की आबादी के मामले में मध्यप्रदेश पहले स्थान पर
उमरिया:

मध्यप्रदेश ने लगभग नौ साल के अंतर के बाद देश में प्रतिष्ठित ‘टाइगर स्टेट' का सम्मान एक बार फिर हासिल किया ही था कि पिछले एक सप्ताह में आपसी संघर्ष के कारण प्रदेश में तीन बाघों की मौत का मामला सामने आया है.ताजा मामले में मंगलवार को देर रात उमरिया जिले के घुनघुटी रेंज में दो वर्षीय बाघ शावक का शव मिला है. इससे पहले रविवार और सोमवार को बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व (BTR) में एक बाघिन और उसके एक शावक के शव बरामद किए गए थे. वन विभाग के रेंजर पीके त्रिपाठी ने बताया, “हमें मंगलवार रात घुनघुटी वन क्षेत्र में शव के बारे में जानकारी मिली है. वन टीम रात में घटनास्थल पर पहुंची और तलाशी अभियान शुरू किया.'' उन्होंने कहा कि घटनास्थल की स्थिति को देखने के बाद ऐसा लगता है कि दो साल के इस बाघ की वन्यजीवों के बीच लड़ाई में मौत हो गई.

International Tiger Day: बाघों की संख्या में मध्य प्रदेश नंबर वन, जानिए दूसरे और तीसरे नंबर पर कौन सा राज्य


वहीं एक अन्य घटना के बारे में बीटीआर के प्रभारी उप निदेशक ए के शुक्ला ने बुधवार को पीटीआई-भाषा को बताया कि 10 माह के बाघ शावक का शव 28 जुलाई को रिजर्व के कल्लावा रेंज में मिला था. इसके अगले दिन (सोमवार) को शावक की मां बाघिन टी-62 (आठ साल) का शव भी इस क्षेत्र में पाया गया. उन्होंने बताया कि शवों पर चोट के निशान बताते हैं कि दोनों की लड़ाई में मौत हो गई. इलाके में एक नर बाघ के पंजों के निशाने भी मिले हैं. वन अधिकारी ने बताया कि शावक का शव एक दिन पुराना लग रहा था जबकि बाघिन टी-62 का शव एक सप्ताह पुराना था. शुक्ला ने कहा कि बाघिन टी-62 का एक और शावक इलाके में जिंदा मिला है. उसे सुरक्षित जगह स्थानांतरित कर दिया गया है. उन्होंने कहा कि अनुमान है कि बीटीआर में 110 बाघ मौजूद हैं.

मध्य प्रदेश: बांधवगढ़ टाइगर रिसर्व में बाघिन और शावक की मौत से मचा हड़कंप

गौरतलब है कि सोमवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा जारी की गई अखिल भारतीय बाघ अनुमान रिपोर्ट 2018 के अनुसार बाघों की आबादी के मामले में 526 बाघों के साथ मध्यप्रदेश पहले स्थान पर है जबकि कर्नाटक 524 बाघों के साथ देश में दूसरे स्थान पर है. वर्ष 2010 में कर्नाटक ने मध्यप्रदेश से प्रतिष्ठित ‘‘टाइगर स्टेट'' का दर्जा छीना था जिसे मध्यप्रदेश में लगभग नौ साल के अंतराल के बाद पुन: हासिल किया है.

टिप्पणियां

VIDEO : पीएम मोदी ने कहा- अभी काफी कुछ करने की जरूरत



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement