NDTV Khabar

विदेश में हुई भारतीय लड़की की मौत, इस वजह से देश नहीं ला पा रहे शव, सरकार से लगाई गुहार

थाईलैंड के फुकेत शहर में सड़क दुर्घटना में जान गंवाने वाली मध्य प्रदेश के छतरपुर की सॉफ्टवेयर इंजीनियर प्रज्ञा पालीवाल (29) के पार्थिव शरीर को भारत लाने में उसके परिवार को किसी भी सदस्य के पास पासपोर्ट न होने के कारण परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
विदेश में हुई भारतीय लड़की की मौत, इस वजह से देश नहीं ला पा रहे शव, सरकार से लगाई गुहार

थाईलैंड में सड़क दुर्घटना में जान गंवाने वाली मध्य प्रदेश की सॉफ्टवेयर इंजीनियर प्रज्ञा पालीवाल

खास बातें

  1. थाईलैंड के फुकेत शहर में सड़क दुर्घटना
  2. मध्य प्रदेश की सॉफ्टवेयर इंजीनियर प्रज्ञा पालीवाल की मौत
  3. मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी किया ट्वीट
मध्य प्रदेश:

थाईलैंड के फुकेत शहर में सड़क दुर्घटना में जान गंवाने वाली मध्य प्रदेश के छतरपुर की सॉफ्टवेयर इंजीनियर प्रज्ञा पालीवाल (29) के पार्थिव शरीर को भारत लाने में उसके परिवार को किसी भी सदस्य के पास पासपोर्ट न होने के कारण परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. इसी बीच, विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर एवं मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्वीट कर इस मामले में प्रज्ञा के परिवार को हर तरह की मदद करने का आश्वासन दिया है.

क्रिकेट खेलने पर हुए विवाद के चलते चचेरे भाई ने 30 वर्षीय व्यक्ति को मारी गोली, आरोपी फरार

प्रज्ञा के शिक्षक भाई एस पी पालीवाल ने गुरुवार को छतरपुर में संवाददाताओं को बताया, ‘‘मेरी बहन प्रज्ञा पालीवाल बेंगलुरु की एक कंपनी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर थीं. उसकी रूममेट ने बेंगलुरू से बताया कि नौ अक्टूबर को मेरी बहन प्रज्ञा की कार हादसे में थाईलैंड के फुकेत शहर में मौत हो गई है.'' उन्होंने कहा कि वह अपनी कंपनी की 11 अक्टूबर से बैंकॉक में होने वाली मीटिंग में शामिल होने के लिए आठ अक्टूबर को थाईलैंड पहुंची थीं.


पालीवाल ने बताया, ‘‘उसके पार्थिव शव को हमें भारत लाना है, लेकिन अभी हमारे परिवार के किसी भी सदस्य के पास पासपोर्ट नहीं है, जिसके कारण हम उसके शव को लेने थाईलैंड नहीं जा पा रहे हैं. इसके लिए हमने छतरपुर के विधायक आलोक चतुर्वेदी (कांग्रेस) एवं जिला प्रशासन से मदद की गुहार लगाई है.''

खुलेआम फायरिंग करने के आरोप में VHP और बजरंग दल के 150 कार्यकर्ताओं पर FIR, देखें Video

विधायक चतुर्वेदी ने गंभीर समस्या को देखते हुए तत्काल इसकी जानकारी मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ को देने के साथ-साथ ट्वीट कर विदेश मत्रालय से मदद की अपील की, जिस पर विदेश मंत्री एस जयशंकर एवं कमलनाथ ने ट्वीट कर हर संभव मदद करने का भरोसा दिलाया. जयशंकर ने ट्विटर पर लिखा कि हमारा दूतावास थाईलैंड के सड़क हादसे का शिकार हुई लड़की (मध्य प्रदेश के छतरपुर निवासी) के शोकाकुल परिवार के संपर्क में है और दुख की इस घड़ी में हम इस परिवार की हर तरह की मदद करेंगे.

कमलनाथ ने ट्वीट किया, ‘‘छतरपुर की बेटी प्रज्ञा पालीवाल के ट्रेनिंग के दौरान थाईलैंड के फूकेट शहर में हादसे में हुई मौत की ख़बर बेहद दुःखद. परिवार के किसी सदस्य के पास पासपोर्ट नहीं है, पार्थिव शरीर लाने में दिक्कत हो रही है.''

टिप्पणियां

उन्होंने ट्विट पर आगे लिखा, ‘‘परिवार परेशान ना हो, सरकार आपके साथ. हर संभव मदद के निर्देश. विदेश मंत्रालय से सरकार चर्चा कर शव लाने का प्रयास करेगी. परिवार के सदस्य जाना चाहे तो उसका भी सरकार पूरा इंतज़ाम करेगी.''

हनीट्रैप मामले में एक हजार से ज्यादा VIDEO क्लिप खंगाल रही पुलिस



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement