15 महीने सत्ता में रहने के बाद क्या आज MP के CM कमलनाथ ऐलान करेंगे पारी के अंत का... आखिर क्यों लगाए जा रहे हैं ऐसे कयास

कोर्ट ने गुरुवार को फैसला सुनाते हुए कहा कि मध्यप्रदेश विधानसभा का सत्र फिर से बुलाया जाए और कमलनाथ सरकार शुक्रवार शाम 5 बजे बहुमत हासिल करे.

15 महीने सत्ता में रहने के बाद क्या आज MP के CM कमलनाथ ऐलान करेंगे पारी के अंत का... आखिर क्यों लगाए जा रहे हैं ऐसे कयास

मुख्यमंत्री कमलनाथ. (फाइल फोटो))

भोपाल:

15 महीनों तक चली मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ की पारी क्या शुक्रवार को खत्म हो जाएगी? कयास इसलिये लग रहे हैं क्योंकि मुख्यमंत्री कमलनाथ ने देर रात ऐलान किया है कि शुक्रवार दोपहर 12 बजे वो प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे. माना जा रहा है कि कमलनाथ प्रेस कॉन्फ्रेंस में फ्लोर टेस्ट से पहले अपना त्याग पत्र देने का ऐलान कर सकते हैं. सुप्रीम कोर्ट ने दो दिनों तक चली सुनवाई के बाद कमलनाथ सरकार को शुक्रवार को शाम 5 बजे तक फ्लोर टेस्ट के आदेश दिए हैं. 

कोर्ट ने गुरुवार को फैसला सुनाते हुए कहा कि मध्यप्रदेश विधानसभा का सत्र फिर से बुलाया जाए और कमलनाथ सरकार शुक्रवार शाम 5 बजे बहुमत हासिल करे. हालांकि, रात एक बजे तक विधानसभा की कार्यसूची जारी नहीं हुई थी, नाटकीय घटनाक्रम में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव देर रात विधानसभा पहुंचे और अध्यक्ष की मेज पर अपनी चिठ्ठी और फैसले की प्रति रखकर आए.

शुक्रवार सुबह भोपाल लौटे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने बयान दिया है कि आज की तारीख में सरकार के पास बहुमत नहीं है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

मध्य प्रदेश में विधानसभा की 230 सीटें हैं. फिलहाल 2 सदस्यों के निधन से मौजूदा सदस्य संख्या 228 है, लेकिन देर रात स्पीकर एनपी प्रजापति ने 16 और कांग्रेस के बागी विधायकों के इस्तीफे मंजूर कर लिये ऐसे में सदस्य संख्या 206 हो गई है. जिसमें बहुमत का आंकड़ा 104 है, अब कांग्रेस के पास 92 विधायक रह गए हैं. कांग्रेस को इस वक्त बीएसपी के 2, समाजवादी पार्टी के 1 और 4 निर्दलीय विधायकों का समर्थन हासिल है. इस तरह से कुल मिलाकर कांग्रेस का आंकड़ा 99 हो जाता है, जो कि बहुमत के आंकड़े से कम है. जबकि बीजेपी के पास 107 विधायक हैं.

वीडियो: सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस पर बोला हमला