NDTV Khabar

मध्यप्रदेश: आईबी ने सोशल मीडिया पर बच्चा चोरी की अफवाहों को लेकर किया अलर्ट

खुफिया ब्यूरो (आईबी) ने मध्यप्रदेश की अपनी क्षेत्रीय इकाइयों को बच्चा चुराए जाने की अफवाहों का खंडन करने को कहा है, जिससे संभावित मॉब लिंचिंग व अन्य कानून व व्यवस्था की समस्या से बचा जा सके.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मध्यप्रदेश: आईबी ने सोशल मीडिया पर बच्चा चोरी की अफवाहों को लेकर किया अलर्ट

प्रतीकात्मक तस्वीर

खास बातें

  1. खुफिया ब्यूरो ने बच्चा चुराए जाने की अफवाहों का खंडन करने को कहा
  2. कहा- सोशल मीडिया पर प्रसारित हो रहे फर्जी संदेश
  3. 'इससे मॉब लिंचिंग व कानून व्यवस्था की समस्या हो सकती है'
मध्यप्रदेश:

खुफिया ब्यूरो (आईबी) ने मध्यप्रदेश की अपनी क्षेत्रीय इकाइयों को बच्चा चुराए जाने की अफवाहों का खंडन करने को कहा है, जिससे संभावित मॉब लिंचिंग व अन्य कानून व व्यवस्था की समस्या से बचा जा सके. खुफिया ब्यूरो की राज्य इकाई ने एक सर्कुलर जारी किया है, जिसमें कहा गया है कि बच्चा उठाने वाले गैंग के संदर्भ में 'व्हाट्सअप व फेसबुक समूहों पर विभिन्न प्रकार के संदेश एकत्र हो रहे हैं और नए फर्जी पोस्ट प्रसारित हो रहे हैं.' सर्कुलर के अनुसार, कुछ संदेशों में दावा किया गया है कि म्यांमार के रोहिग्या मुस्लिम राज्य में आकर बच्चों को अगवा कर रहे हैं.

मध्य प्रदेश : बच्चा चोर होने के शक में भीड़ ने की मानसिक रूप से बीमार महिला की पिटाई

एक वरिष्ठ अधिकारी द्वारा जारी सर्कुलर में कहा गया, "किसी दिन इससे मॉब लिंचिंग व कानून व व्यवस्था की समस्या हो सकती है. इसलिए कृपया सोशल मीडिया पर निगरानी रखें. प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया द्वारा जागरूकता सुनिश्चित होनी चाहिए और कृपया अफवाहों का समय से खंडन करें."


मध्य प्रदेश में भीड़ ने बच्चा चोर होने के शक में कांग्रेस नेताओं को पीटा, मामला दर्ज

टिप्पणियां

सर्कुलर में कहा गया कि तस्वीरें व ऑडियो टेप भी एकत्र करने चाहिए, जिससे यह असर जाए कि कुछ बच्चे उठाने वालों को पकड़ा जा रहा है. सर्कुलर में कहा गया है कि अफवाहों के आधार पर कुछ निर्दोष लोगों को पीटा गया है.

VIDEO: अब मध्‍य प्रदेश में वाट्सऐप पर बच्‍चा चोरी की अफवाह के बाद ली महिला की जान



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement