NDTV Khabar

मध्यप्रदेश में रैगिंग से परेशान MBBS छात्र ने फांसी लगाकर जान दी

रैगिंग से परेशान एमबीबीएस प्रथम वर्ष के एक छात्र ने फांसी लगाकर कथित रूप से आत्महत्या कर ली.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मध्यप्रदेश में रैगिंग से परेशान MBBS छात्र ने फांसी लगाकर जान दी

प्रतीकात्मक फोटो.

बैतूल (मध्यप्रदेश): रैगिंग से परेशान एमबीबीएस प्रथम वर्ष के एक छात्र ने फांसी लगाकर कथित रूप से आत्महत्या कर ली. कोतवाली पुलिस थाना प्रभारी राजेश साहू ने बताया, 'एमबीबीएस के छात्र यश साठे (21) ने चंद्रशेखर वार्ड स्थित अपने रिश्तेदार के घर पर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली.उसका शव फांसी के फंदे पर लटका हुआ मिला.'

यह भी पढ़ें : उत्तर प्रदेश : BAMS छात्र ने रैगिंग से परेशान होकर खुदकुशी कर ली

उन्होंने कहा कि वह मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के लक्ष्मीनारायण कॉलेज में अध्ययनरत था और बैतूल का निवासी था. वह 12 जून की रात को ही भोपाल से बैतूल लौटा था. साहू ने बताया कि शव को पोस्टमॉर्टम के लिए ले जाया गया है. उन्होंने कहा कि इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया गया है और विस्तृत जांच जारी है. परिजनों के बयान लेने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी, ताकि मौत के कारण ज्ञात हो सके.

यह भी पढ़ें : रैगिंग को लेकर सरकार सख्त, कहा- हर महीने जमा हो रिपोर्ट

यश के पिता प्रहलाद साठे ने बताया, 'पिछले साल मैंने अपने पुत्र यश साठे का दाखिला भोपाल के लक्ष्मीनारायण मेडिकल कॉलेज में कराया था. वहां कॉलेज में पढऩे वाले कुछ सीनियर छात्र-छात्राओं ने उसकी रैगिंग की थी, जिसकी कॉलेज प्रशासन से शिकायत करने के बाद भी आरोपियों पर कोई कार्रवाई नहीं की गई.' प्रहलाद ने कहा, 'सीनियर छात्र उसे रैगिंग के बहाने परेशान कर रहे थे. कॉलेज की छात्र-छात्राओं ने उसके साथ मारपीट भी की थी.' 

टिप्पणियां
VIDEO : ऐसे कैसे रुकेगी रैगिंग...?


उन्होंने बताया कि कॉलेज की एक सीनियर छात्रा ने यश पर पैसे चोरी करने का इल्जाम भी लगाया था. वहीं, चंद्रशेखर वार्ड में रहने वाले यश के चचेरे भाई विजय पंवार ने बताया कि जब 12 जून की रात 10 बजे यश बैतूल पहुंचा था, तो उसके चेहरे पर चोटों के निशान भी थे. उसने कॉलेज में मारपीट होने की जानकारी भी दी थी.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement