MP : भारी बारिश के चलते बढ़ा नदियों का जलस्तर, बांधों में पानी का लेवल फुल, CM शिवराज ने ली जानकारी

राज्य में जबलपुर संभाग में छिंदवाड़ा और नरसिंहपुर में सबसे अधिक बारिश दर्ज की गई है. छिंदवाड़ा के बेलखेड़ा में तो 150 लोगों को सुरक्षित कैम्प में पहुंचाया गया है.

MP : भारी बारिश के चलते बढ़ा नदियों का जलस्तर, बांधों में पानी का लेवल फुल, CM शिवराज ने ली जानकारी

राज्य के लगभग सभी बांधों में पानी का लेवल फुल है. (फाइल फोटो)

भोपाल:

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh Flood) के कई जिलों में पानी के बढ़ते जलस्तर को देखते हुए डैम के गेट खोले जा रहे हैं. राज्य में बाढ़ का खतरा बना हुआ है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह (Shivraj Singh Chouhan) ने शनिवार को प्रमुख नदियों के जलस्तर की जानकारी ली. जानकारी के मुताबिक प्रदेश के सभी बांधो का जल स्तर एवं किस बांध के कुल कितने गेट खोले गए है. राज्य के लगभग सभी बांधों में पानी का लेवल फुल है. होशंगाबाद के तवा डैम के 13 में से 13 गेट खोले गए है. इंदिरा सागर के 22 गेट खोले गए हैं. ओम्कारेश्वर में 23 में से 21 गेट खोले गए. राजघाट 18 में से 14, बरगी के 21 में से 17 गेट खोले गए  हैं. वहीं मंडला के पेंच बांध के सभी गेट खोले गए है.

राज्य में जबलपुर संभाग में छिंदवाड़ा और नरसिंहपुर में सबसे अधिक बारिश दर्ज की गई है. छिंदवाड़ा के बेलखेड़ा में तो 150 लोगों को सुरक्षित कैम्प में पहुंचाया गया है. राज्य सरकार का कहना है कि एनडीआरएफ, एसडीआरएफ की सभी टीम को एलर्ट किया गया है, आवश्यकता होने पर टीम का डिप्लॉयमेंट तुरंत होगा. भोपाल संभाग में सर्वाधिक बारिश रायसेन में दर्ज की गई है.

न्यूज एजेंसी ANI के अनुसार, तवा डैम से 5,33,823 क्यूसेक पानी छोड़ा गया.

#WATCH Madhya Pradesh: All 13 gates of the Tawa Dam in Hoshangabad's Itarsi opened by thirty feet each today, releasing over 5,33,823 cusecs of water. pic.twitter.com/MQh1Rb4Hp6

— ANI (@ANI) August 29, 2020

मध्य प्रदेश  के कई हिस्सों में भारी वर्षा हुई, आईएमडी ने नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा, सिवनी, बालाघाट, बैतूल और होशंगाबाद जिलों में लगातार गिरावट के बीच राज्य के छह जिलों के लिए अत्यधिक भारी बारिश का अलर्ट जारी किया.

इसके अलावा, आईएमडी ने एक ऑरेंज अलर्ट जारी किया जिसमें जबलपुर और सागर संभाग के जिलों सहित 10 जिलों के अलग-अलग स्थानों पर बहुत भारी वर्षा, आंधी और बिजली गिरने की भविष्यवाणी की गई थी .ये बौछारें शिवपुरी से मानसून ट्रफ के गुजरने के अलावा, पूर्वी मध्य प्रदेश पर कम दबाव वाले क्षेत्रों के कारण हैं.

बिहार में बाढ़ तो गुजरात में बारिश ने मचाई तबाही, जानें आपके राज्य के मौसम का हाल

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने अधिकारियों को अलर्ट पर रहने और बाढ़ से प्रभावित लोगों को तुरंत मदद और राहत प्रदान करने के निर्देश दिए हैं.

(इनपुट ANI से भी)

VIDEO: देश प्रदेश : कपास की खड़ी फसल चौपट, किसान का कर्ज आखिर कब उतरेगा?

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com