NDTV Khabar

भोपाल : पुलिस ने लड़की को 12 घंटे के बाद सिरफिरे आशिक के कब्जे से छुड़ाया

इस ऑपरेशन के लिए हाइड्रोलिक सीढ़ियों को जैक के जरिये उठाकर प्लैट के ग्रिल तक ले जाया गया और सिरफिरे आशिक से बात कर उसे समझाया गया, जिसके बाद यह ऑपरेशन सफल हुआ.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भोपाल : पुलिस ने  लड़की को 12 घंटे के बाद सिरफिरे आशिक के कब्जे से छुड़ाया

मध्‍यप्रदेश के भोपाल के मिसरोद इलाके एक सिरफिरे ने युवती को बनाया बंधक

खास बातें

  1. सिरफिरे मॉडल ने युवती को बनाया बंधक
  2. युवती से शादी करने के लिए बनाया बंधक
  3. भोपाल के मिसरोद इलाके की घटना
भोपाल : मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के मिसरोद में 12 घंटे तक चले ड्रामे के बाद कथित तौर पर बंधक बनाई गई 30 साल की मॉडल को पुलिस ने छुड़ा लिया. बस कहानी में एक मोड़ आया, पेशे से खुद को कास्टिंग डायरेक्टर बताने वाले आरोपी और मॉडल ने कहा वो एक दूसरे से शादी करना चाहते हैं. शुक्रवार सुबह 6 बजे आरोपी मिसरोद की एक पॉश बिल्डिंग के 5वें माले पर पहुंचा. जबरन 30 साल की मॉडल के फ्लैट में घुसा और दरवाजा अंदर से बंद कर दिया. एक ही मांग, लड़की उससे शादी करे, मां-बाप को घर से निकाला दिया. इस बीच लोगों की भीड़ वहां जुटने लगी. 9 बजे पुलिस को खबर मिली, पुलिस आई दरवाजा खुलवाने की कोशिश की तो उसने पुलिसवाले के हाथ को कैंची से जख्मी कर दिया, धमकी दी कि मांग नहीं मानी गई तो वो साथ लाए रिवॉल्वर से गोली चला देगा. सब इंस्पेक्टर जी एस राजपूत ने बताया, 'उसने कट्टा निकाला और बोला गोली मार दूंगा, लड़की दूर थी, जब दरवाजा नहीं छोड़ा मेरा हाथ दरवाजे पर रखा था, मैंने कट्टा पकड़ा तो उसने कैंची मार दी.'

यह भी पढ़ें: मध्य प्रदेश : तीन लड़कों ने नाबालिग से किया गैंगरेप, दो आरोपी हैं रिश्ते के भाई

बीच-बीच में आरोपी, पानी, मोबाइल चार्जर और खाना मांगता रहा, उसे ये सब बाल्टी से पहुंचाया गया. कभी कभी वो खिड़की से ऊंगली के जरिये विजयी मुद्रा दिखाता रहा, बीच में स्टॉम्प पेपर पर लड़की के शादी के लिये तैयार होने का कागज भी लहराया. अब पुलिस ने तरीका बदला, वो पहले आरोपी से फोन और वीडियो कॉल पर बात कर रही थी. फिर आला अधिकारी, एसडीएम के साथ हाईड्रोलिक क्रेन के सहारे खिड़की तक पहुंची, आरोपी से बात करने लगे, आधे घंटे बाद सारे अधिकारी वापस फ्लैट की तरफ सीढ़ियों से भागे. शाम करीब 7.30 बजे पुलिस दोनों को बाहर निकालने में कामयाब हुई.

टिप्पणियां
VIDEO : लैपटॉप चलाना पड़ गया महंगा, बिजली विभाग ने थमाया 13 हजार का बिल


एसपी राहुल लोढ़ा ने कहा, '12 घंटे जब हमने उससे बात की तब उसे भरोसा हुआ है, मांग थी कि दोनों प्यार करते हैं और दोनों को शादी करने दी जाए, मां-बाप विरोध में थे... ये जायज मांग है जो तरीका अपनाया वो गलत था, फिलहाल इलाज के लिये गये हैं इलाज के बाद जो वैधानिक कार्रवाई है वो करेंगे.' वहीं एसडीएम दिशा नागवंशी का कहना था, 'हमने यही कहा कि दोनों बालिग हैं, शादी करना चाहते हैं तो कोई दिक्कत नहीं आएगी.' दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया. लड़की के हाथ और पैर में चोट आई है. वह बीएसएनएल के पूर्व एजीएम की बेटी है. पुलिस ने बताया कि लड़के के पिता अलीगढ़ से भोपाल के लिए निकल चुके हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement