Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

ज्योतिरादित्य सिंधिया से तकरार पर बोले CM कमलनाथ- मैं कभी किसी से नाराज नहीं होता, मैं तो शिवराज सिंह से भी नाराज नहीं होता

सूबे के मुखिया कमलनाथ ने सिंधिया के साथ नाराजगी से जुड़े सवालों का जवाब देते हुए राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का जिक्र किया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
ज्योतिरादित्य सिंधिया से तकरार पर बोले CM कमलनाथ- मैं कभी किसी से नाराज नहीं होता, मैं तो शिवराज सिंह से भी नाराज नहीं होता

कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया

भोपाल:

भोपाल मध्य प्रदेश में सत्ताधारी कांग्रेस के दो शीर्ष नेताओं मुख्यमंत्री कमलनाथ और पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीच जारी अनबन से पार्टी नेतृत्व परेशान है. इस बीच, मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मंगलवार को कहा कि उनकी किसी से कोई नाराजगी नहीं है. 

सूबे के मुखिया कमलनाथ ने सिंधिया के साथ नाराजगी से जुड़े सवालों का जवाब देते हुए राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का जिक्र किया. उन्होंने कहा, "मैं किसी से कभी नाराज नहीं होता, मैं शिवराज सिंह से नाराज नहीं होता तो सिंधिया से क्यों नाराज होऊंगा." उन्होंने सिंधिया के सड़क पर उतरने वाले बयान पर कहा कि मुझे जो कहना था वो कह दिया है.

राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) को राज्य में लागू करने के सवाल पर कमलनाथ ने मीडिया से कहा कि हम इस पर विचार करेंगे. फिलहाल, हम इसे लागू नहीं करेंगे. 


ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कमलनाथ सरकार को फिर दी चेतावनी- पूरे न हुए वादे तो प्रदर्शन करने में झिझकूंगा नहीं

उल्लेखनीय है कि  कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia)आजकल अपनी ही सरकार के विरोध में खड़े नजर आ रहे हैं. खुद को जनता का सेवक बताने वाले सिंधिया सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरने की बात कर रहे हैं. हाल ही में उन्होंने एक जनसभा में अतिथि शिक्षकों को संबोधित करते हुए वादे पूरे न होने पर राज्य सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरने की बात कही थी. इसके बाद कमलनाथ (CM Kamal Nath) ने इस बारे में पूछे गए सवाल पर कहा था, 'तो उतर जाएं.' रविवार को सिंधिया ने एक बार फिर अपनी बात दोहराई.

मध्य प्रदेश: ज्योतिरादित्य सिंधिया के बयान पर कमलनाथ सरकार के मंत्री आमने-सामने

टिप्पणियां

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने रविवार को मीडिया से बात करते हुए कहा, 'मैं जनता का एक सेवक हूं. जनता के मुद्दों के लिए लड़ाई लड़ना मेरा धर्म है. हमने एक साल धैर्य रखा. इसके बाद अगर घोषणापत्र में किए गए वादों को पूरा नहीं किया जाता है तो हम सड़कों पर प्रदर्शन करने से जरा भी नहीं झिझकेंगे.'

वीडियो: कांग्रेस में अपनों से ही दो दो 'हाथ'



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... दिल्ली में कोरोना के खतरे के बीच हजारों की संख्या में लोग पहुंचे बस अड्डे, विपक्षी नेताओं ने सरकार पर बोला हमला

Advertisement