NDTV Khabar

गठबंधन की आस लगाए बैठी कांग्रेस को झटका, मध्‍य प्रदेश की 230 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी BSP

मध्यप्रदेश में बीजेपी के ख़िलाफ़ विपक्ष की एकजुटता को बीएसपी ने करारा झटका दिया है. बीएसपी ने आगामी विधानसभा चुनावों में कांग्रेस के साथ गठबंधन की बात से इनकार कर दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गठबंधन की आस लगाए बैठी कांग्रेस को झटका, मध्‍य प्रदेश की 230 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी BSP

फाइल फोटो

खास बातें

  1. विपक्ष की एकजुटता को बीएसपी ने करारा झटका दिया है
  2. विधानसभा चुनावों में कांग्रेस के साथ गठबंधन की बात से इनकार कर दिया है
  3. बीएसपी अपने दम पर सभी 230 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी
नई दिल्ली:

मध्यप्रदेश में बीजेपी के ख़िलाफ़ विपक्ष की एकजुटता को बीएसपी ने करारा झटका दिया है. बीएसपी ने आगामी विधानसभा चुनावों में कांग्रेस के साथ गठबंधन की बात से इनकार कर दिया है. बीएसपी अपने दम पर सभी 230 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी. उधर, कांग्रेस अब भी गठबंधन की आस लगाए बैठी है. कांग्रेस के प्रवक्ता मानक अग्रवाल ने कहा है कि अभी चुनाव में वक्त है, हम समान विचारधारा वाले दलों को साथ लेकर चलना चाहते हैं.  

2019 में कन्नौज से अखिलेश और मैनपुरी से मुलायम सिंह यादव लड़ेंगे लोकसभा चुनाव 

मध्यप्रदेश बसपा अध्यक्ष नर्मदा प्रसाद अहिरवार ने कहा, ‘मुझे मीडिया से पता चला है कि कांग्रेस नेता कह रहे हैं कि आगामी विधानसभा चुनाव के लिए बसपा के साथ गठबंधन के लिए कांग्रेस की बातचीत चल रही है. मैं स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि इस गठबंधन के संबंध में राज्य स्तर पर हमारी कोई बातचीत नहीं हो रही है और जहां तक मुझे पता है केन्द्रीय स्तर पर भी नहीं हो रही है.’    

टिप्पणियां

मुलायम और अखिलेश यादव के बाद BSP प्रमुख मायावती ने भी खाली किया सरकारी बंगला


उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस के साथ गठबंधन करने के बारे में मुझे केन्द्रीय नेतृत्व से अब तक कोई दिशानिर्देश नहीं मिले हैं.’ अहिरवार ने बताया, ‘हम प्रदेश की सभी 230 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ेंगे. यह हमारी आज की स्थिति है.’ इस बीच, मध्यप्रदेश कांग्रेस के मीडिया विभाग के प्रमुख माणक अग्रवाल ने कहा, ‘गठबंधन करने के बारे में हमने किसी पार्टी का नाम नहीं लिया. हमारी पार्टी ने सिर्फ इतना कहा है कि कांग्रेस समान विचार वाली पार्टियों से मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में गठबंधन करने का प्रयास करेगी. हमने कभी बसपा का नाम नहीं लिया.’

VIDEO: वन टू का फोर या फोर टू का वन ?
 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement