वन मंत्री का दिग्विजय पर एक और हमला, कहा- जनता की सरकार है; किसी नेता की नहीं

मंत्री उमंग सिंघार ने दिग्विजय को ब्लैकमेलर नंबर वन कहा, अवैध उत्खनन और शराब की तस्करी में लिप्त होने का आरोप लगाया

वन मंत्री का दिग्विजय पर एक और हमला, कहा- जनता की सरकार है; किसी नेता की नहीं

दिग्विजय सिंह पर मध्यप्रदेश के वन मंत्री उमंग सिंघार ने गंभीर आरोप लगाए हैं.

खास बातें

  • कहा- सरकार की नीतियों में दखलंदाजी करते हैं दिग्विजय सिंह
  • मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए रस्साकशी तेज
  • ज्योतिरादित्य सिंधिया को अध्यक्ष बनाने के लिए अखबार में विज्ञापन
भोपाल:

पहले बुआ मध्यप्रदेश की पूर्व उप मुख्यमंत्री जमुना देवी की दिग्विजय सिंह से पटरी नहीं बैठी, अब भतीजे मध्यप्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री उमंग सिंघार ने उनके खिलाफ मोर्चा खोला है. उमंग ने दिग्विजय को ब्लैकमेलर नंबर वन तक कह डाला. यह भी आरोप लगाया कि दिग्विजय रेत के अवैध उत्खनन और शराब की तस्करी तक में लिप्त हैं. उन्होंने कहा कि सरकार की नीतियों में आप दखलंदाजी करते हैं दिग्विजय सिंह जी, आप पर्दे के पीछे से अपने लोगों को बिठाकर अवैध धंधे करवाते हैं, शराब का धंधा अपने जिले में अधिकारी को बिठा रखा है.
   
लगातार तीसरे दिन मध्यप्रदेश सरकार में वनमंत्री उमंग सिंघार ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पर हमला बोला. दिग्विजय और उमंग के बीच तनातनी 28 कैबिनेट मंत्रियों को काम के सिलसिले में मिलने का वक्त मांगने के लिए लिखे खत से शुरू हुई. मंगलवार को दो और खत आए उमंग ने कहा वे अपने बंगले पर तीन तारीख को मिल सकते हैं, तो जवाब आया दिग्विजय 2, 8 या 10 सितंबर को मिल सकते हैं. भोपाल की यह लड़ाई कांग्रेस के दिल्ली दरबार भी पहुंच चुकी है.
 
उमंग सिंघार से जब एनडीटीवी ने सवाल किया कि क्या उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को खत लिखा है तो उन्होंने कहा बिल्कुल लिखा है. सच बोलना है ... ये सरकार जनता की सरकार है, ये किसी नेता की सरकार नहीं है. ये लोग खत भेजकर वायरल करना इसलिए चाहते हैं, दिखाना चाहते हैं, वो शैडो सीएम हैं.

शिवराज चौहान का कांग्रेस पर हमला, दिग्विजय सिंह के 'सरकार चलाने' की खबरों पर दिया यह Reaction

4odd4ors

मध्य प्रदेश: कांग्रेस में अंदरूनी कलह खुल कर आई सामने, शिवराज सिंह ने कहा सीएम तो कमलनाथ लेकिन सरकार...

उमंग अकेले नहीं हैं, पूर्व पीसीसी चीफ अरुण यादव ने ट्वीट कर लिखा कि वे बहुत आहत हैं. लड़ाई सिर्फ सरकार में नहीं, मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के लिए भी रस्साकशी तेज है. भोपाल के एक पार्षद ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को अध्यक्ष बनाने के लिए अखबार में विज्ञापन दे दिया तो वहीं भिंड में जिला कांग्रेस कमेटी ने उनके पक्ष में एक प्रस्ताव पारित किया. जबकि शिवपुरी में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जिले में किसी भी कांग्रेस नेता के प्रवेश की अनुमति नहीं देने की धमकी दी.

lis9tgrs

      

जो नेता जिस गुट में हैं वे उसी के मुताबिक बयान दे रहे हैं. जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने कहा सिंघार जी प्रदेश अध्यक्ष की दौड़ में हैं. पिछले दिनों पीछे हो गए थे, कैसे आगे आएं. मैं समझता हूं इसलिए मीडिया में आए हैं. आज की तारीख में कमलनाथ मुख्यमंत्री भी हैं, नेता भी हैं. सोनिया जी तय करेंगी.
 

सोनिया गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष बनते ही फॉर्म में आए दिग्विजय सिंह       

वहीं पीडब्लूडी मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने कहा उमंग सिंघार की पीड़ा बहुत दिनों से मन में दबी थी, पर छोटे कद के नेता को बड़े कद के नेता के लिए बहुत सम्मानजनक ढंग से बोलना चाहिए.

मध्य प्रदेश में क्या पर्दे के पीछे से दिग्विजय सिंह सरकार चला रहे हैं?      

उधर बीजेपी कह रही है ये मलाई की लड़ाई है. नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कहा यह मलाई की लड़ाई है. एक पक्ष कोई ज्यादा खाएगा तो दूसरे को आपत्ति होगी. सैद्धांतिक कम लग रहा है, व्यक्तिगत ज्यादा लग रहा है. वहीं पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा कोई ब्लैकमेलर बन रहा है, कोई रेत में लूट रहा है. कितने पावर सेंटर बने हुए हैं. कांग्रेस में जो होना है हो, मेरे प्रदेश को बर्बाद मत करो.

VIDEO : दिग्विजय सिंह पर कमलनाथ के मंत्री का आरोप

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com