NDTV Khabar

मध्‍य प्रदेश : सतना में एससी-एसटी एक्ट में संशोधन के विरोध के दौरान पुलिस ने जमकर भांजी लाठियां

अभीतक इस मामले में कुछ नहीं बोल रही कांग्रेस के सतना कार्यकारी अध्यक्ष राजभान सिंह इस विरोध की अगुवाई करते दिखे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मध्‍य प्रदेश : सतना में एससी-एसटी एक्ट में संशोधन के विरोध के दौरान पुलिस ने जमकर भांजी लाठियां

सतना में प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज करती पुलिस

सतना:
टिप्पणियां

मध्य प्रदेश के सतना में एससी-एसटी एक्ट में संशोधन के विरोध में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को काले झंडे दिखाने और घेरने की कोशिश में सवर्ण समाज और पुलिस के बीच जमकर झूमाझटकी हुई. अभीतक इस मामले में कुछ नहीं बोल रही कांग्रेस के सतना कार्यकारी अध्यक्ष राजभान सिंह इस विरोध की अगुवाई करते दिखे. विरोध के दौरान पुलिस से उनकी झड़प भी हुई जिसमें राजभान सिंह को चोट आई. विरोध कर रहे लोगों ने सभास्थल बीटीआई ग्राउंड में मुख्यमंत्री के काफिले का घेराव करते हुए उग्र प्रदर्शन किया. इसके बाद पुलिस ने जमकर लाठियां भांजी और प्रदर्शनकारियों को खदेड़ा. बीजेपी अब सवर्णों से ओबीसी को अलग करने की फिराक में लगी है. माना जा रहा इसी लिये उसने पिछड़ा वर्ग महाकुंभ का आयोजन किया है.

एससी-एसटी एक्ट में संशोधन को लेकर हो रहे विरोध को देखते हुए सीएम की यात्रा में हर जगह कड़ी सुरक्षा के इंतजाम किए जा रहे हैं, बावजूद इसके सोमवार रात भी उज्जैन में उनके काफिले पर पथराव हुआ था. महीदपुर से नागदा के बीच सीएम की जन आशीर्वाद यात्रा में चल रहे काफिले में कुछ अज्ञात लोगों ने पथराव किया. पुलिस की गाड़ी पर पत्थर लगे थे लेकिन किसी को चोट नहीं आई. भीड़ और अंधेरे का फायदा उठाकर अज्ञात हमलावर भागने में कामयाब रहे.
 


इस मामले में मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा, "शिवराज की जनआशीर्वाद यात्रा में हुआ पथराव निंदनीय है, लेकिन यह भी देखना होगा कि कहीं ना कहीं जनआक्रोश है, जनता ख़ुद को ठगा महसूस कर रही है..." बीजेपी नेता और सहकारिता मंत्री विश्वास सारंग ने इस मामले में कांग्रेस को कठघरे में खड़ा करते हुए कहा कि, "पूरी घटनाएं कांग्रेस प्रायोजित हैं और उसकी स्क्रिप्ट के हिसाब से हो रही हैं, फिर चाहे सीधी की घटना हो या उज्जैन की."



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement