NDTV Khabar

LIVE: मध्य प्रदेश के मुरैना में बोले राहुल गांधी- हम किसानों से पूछकर भूमि अधिग्रहण बिल लाए

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव की तैयारियों में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते हैं.

1KShare
ईमेल करें
टिप्पणियां
LIVE: मध्य प्रदेश के मुरैना में बोले राहुल गांधी- हम किसानों से पूछकर भूमि अधिग्रहण बिल लाए

मध्य प्रदेश के दौरे पर आज राहुल गांधी

नई दिल्ली:

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव की तैयारियों में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते हैं. यही वजह है कि आज एक बार फिर से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी संकल्प यात्रा के दौरान शनिवार को मध्य प्रदेश में मुरैना और जबलपुर के एक दिवसीय चुनावी दौरे पर हैं.  प्रदेश में इस साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने हैं और पिछले 20 दिनों में कांग्रेस अध्यक्ष की प्रदेश की यह तीसरी चुनाव प्रचार यात्रा है.  मुरैना में इस मौके पर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ, कांग्रेस की प्रदेश चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया और कांग्रेस के अन्य नेता भी मौजूद हैं. मुरैना में संकल्पया यात्रा के दौरान रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हमला बोला और कहा कि यह सरकार किसानों के साथ छलावा करती है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आदिवासियों से कहा कि जल, जंगल, जमीन का आपका हक हम आपको देकर रहेंगे. इससे पीछे नहीं हटने वाले हैं. उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश के किसानों से मैं कहना चाहता हूं कि - हमने अपने घोषणा पत्र में लिखा है कि कांग्रेस पार्टी खेत के आधार पर बीमा का पैसा देगी. 
 

Rahul Gandhi in Morena Live Updates:


-कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आदिवासियों से कहा कि जल, जंगल, जमीन का आपका हक हम आपको देकर रहेंगे. इससे पीछे नहीं हटने वाले हैं. उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश के किसानों से मैं कहना चाहता हूं कि - हमने अपने घोषणा पत्र में लिखा है कि कांग्रेस पार्टी खेत के आधार पर बीमा का पैसा देगी. 

- कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि सिर्फ कर्जा माफ करने से बात नहीं बनेगी ये सही बात है. आज किसान दुःखी है, घबराया हुआ है और जी नहीं पा रहा है. इसीलिए हम किसान की मदद करते हैं. समाधान सिर्फ कर्जा माफ करने से नहीं होगा. किसान की जिंदगी बदलने से समाधान होगा. हरित क्रांति, श्वेत क्रांति, टेलीकॉम क्रांति का काम हमने करके दिखाया है.


- राहुल गांधी ने कहा कि नोटबंदी की पूरा देश लाईन में खड़ा हुआ. हिंदुस्तान के सबसे अमीर लोगों का काला धन सफेद में बदला गया, कोई जेल नहीं गया. मगर 15 लाख रुपये किसी भी गरीब को नहीं मिला. आदिवासियों को जल, जंगल, जमीन का फायदा मिलना चाहिए.  उन्होंने यह भी कहा कि जैसे ही मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान में कांग्रेस पार्टी की सरकार आयेगी हम ट्राईबल बिल को लागू करके दिखायेंगे.

- राहुल गांधी ने कहा कि हिंदुस्तान की एयरफोर्स के लिये यूपीए सरकार 526 करोड़ में हवाई जहाज खरीदती है. इस हवाई जहाज को बनाने का कांट्रैक्ट एचएएल को दिया जाता है. प्रधानमंत्री जी फ्रांस जाते हैं कांट्रैक्ट बदलते हैं, कांट्रैक्ट एचएएल से छीनकर अपने मित्र अंबानी को देते हैं. 526 करोड़ का हवाई जहाज 1600 करोड़ रुपये में खरीदा जाता है . जब अनिल अंबानी जी ने मोदी जी से कांट्रैक्ट मांगा तो उन्होंने बिना किसी से पूछे सीधा 30,000 करोड़ रुपये उसकी जेब में डाल दिया. हम सिर्फ न्याय मांग रहे हैं. अगर देश को आगे बढ़ना है तो सबके लिये जगह होनी चाहिए. उद्योगपतियों के लिये भी जगह हो. यदि उद्योगपतियों को फायदा पहुंचा रहे हैं तो किसानों, महिलाओं, आदिवासियों को भी फायदा मिलना चाहिए. 

- राहुल गांधी ने कहा कि अगर मनरेगा को देखें तो इसकी पूरी शक्ति पंचायत में थी. मोदी जी की सरकार आयी और पंचायतों को उन्होंने कमजोर किया. भाजपा के लोगों ने पूरे देश में पंचायती राज के ढांचे पर ही आक्रमण कर दिया. कांग्रेस ने उस समय मनरेगा को चलाने के लिये 35 हजार करोड़ रुपये दिये. नीरव मोदी हिंदुस्तान के बैंकों से 35 हजार करोड़ रुपये चोरी करके भाग गया और उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई. 

-उन्होंने आगे कहा कि विजय माल्या हिंदुस्तान के बैंक से 10,000 करोड़ रुपये लेकर भाग गया. जाने से पहले वित्त मंत्री जेटली जी संसद भवन में मिलते हैं. विजय माल्या उनसे कहता है कि मैं लंदन जा रहा हूं. वित्त मंत्री जेटली जी विजय माल्या की बात सुनते हैं लेकिन न तो ईडी को, न तो सीबीआई को न ही पुलिस को बताते हैं.

- राहुल गांधी ने कहा कि देश में हरित क्रांति ने किसानों को मजबूत किया और अधिकार दिया. हम जमीन अधिग्रहण बिल लाये. अब जमीन ऐसे नहीं, किसानों से पूछकर पंचायत से पूछकर जमीन ली जायेगी और मार्केट रेट से चार गुना ज्यादा कीमत दी जायेगी. मगर 2014 में नरेन्द्र मोदी जी, भाजपा की सरकार बनी और कुछ ही दिनों में पता चलता है कि जमीन अधिग्रहण को भाजपा खत्म करना चाहती है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी के पास ज्यादा सांसद नहीं हैं. लेकिन कांग्रेस पार्टी का हर एक सांसद आपके अधिकार के लिये लड़ा। लोकसभा में और राज्य सभा में हमने भाजपा को रोका. दुःख की बात है कि जो अधिकार हमने आपको दिया था, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान, उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकारों ने छीना. 

-राहुल गांधी ने कहा कि गांधी जी हिंदुस्तान की आजादी के लिये अंग्रेजों से लड़े थे. मगर लक्ष्य- अंग्रेजों को निकालने के बाद हिंदुस्तान के हर नागरिक को उसकी जगह, उसका हक उसको मिले, था. अंग्रेजों के जाने के बाद बहुत प्रगति हुई. हर व्यक्ति को एक वोट दिया गया. संविधान बनाया गया और हिंदुस्तान में हर व्यक्ति को अधिकार दिया गया. देश में हरित क्रांति ने किसानों को मजबूत किया और अधिकार दिया.  उन्होंने कहा कि कुछ लोग कहते हैं कि हिंदुस्तान का पूरा का पूरा फायदा चुने हुए लोगों को मिलना चाहिए. 
 

- मध्य प्रदेश के मुरैना में बोले राहुल गांधी- हम किसानों से पूछकर भूमि अधिग्रहण बिल लाए

- जबलपुर में वह ग्वारी घाट पर नर्मदा पूजन करने के बाद 4.30 बजे बंदरिया तिराहा से अब्दुल हमीद तिराहे तक रोड शो करेंगे. आठ किलोमीटर लम्बा रोड-शो मार्ग पूरी तरह बैनर-पोस्टरों से पटा हुआ है. स्वागत से लिए 100 से अधिक मंच लगाये गये हैं.  कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष की सुरक्षा व्यवस्था के लिए एसपीजी के अलावा 1500 पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे. जिस ओपन मेटाडोर में राहुल गांधी रोड शो करेंगे, उसे एसपीजी ने अपने कब्जे में ले लिया है.  कांग्रेस अध्यक्ष जबलपुर में रोड शो करने के बाद शाम को जबलपुर के रद्दी चौक पर एक आमसभा को सम्बोधित करेंगे और रात्रि में जबलपुर से नई दिल्ली के लिये रवाना हो जायेंगे.

टिप्पणियां

प्रदेश कांग्रेस के एक प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि गांधी छह अक्टूबर को 11 बजे विशेष विमान से ग्वालियर पहुंचेंगे. इसके बाद वह हेलीकॉप्टर से 12 बजे मुरैना पहुंचेंगे और दोपहर एक बजे आम्बेडकर स्टेडियम में आदिवासी एकता परिषद और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के सम्मेलन को सम्बोधित करेंगे. इसके बाद बाद वह जबलपुर जायेंगे. आदिवासियों को भूमि अधिकार देने की मांग को लेकर आदिवासी एकता परिषद के परचम तले बड़ी तादाद में लोग दो अक्टूबर यानी गांधी जयंती से ग्वालियर से पदयात्रा पर निकले हैं. एकता परिषद के राष्ट्रीय संयोजक पीवी राजगोपाल ने कहा, ‘‘दो अक्टूबर से हमने ग्वालियर से दिल्ली के लिये पदयात्रा शुरू की है. कांग्रेस अध्यक्ष हमारी समस्याएं जानने के लिये जा मुरैना आ रहे हैं और हमें बताएंगे कि कांग्रेस की केन्द्र में सरकार बनने पर किस प्रकार हमारी समस्याओं का समधान किया जायेगा.’’

राजनीति यात्रा में अब 'भक्ति मार्ग' पर चल रहे राहुल गांधी के कितने रूप, तस्वीरों में देखें

उन्होंने बताया कि एकता परिषद की ग्वालियर से दिल्ली के लिये यह तीसरी यात्रा है. इससे पहले की दो यात्राएं दिल्ली पहुंचने से पहले ही तत्कालीन सरकार के आश्वासन दिये जाने के बाद बीच में स्थगित कर दी गई थीं. राजगोपाल ने बताया कि परिषद ने मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस अध्यक्ष को पदयात्रा में शामिल होने का निमंत्रण भेजा था, जिसे राहुल ने स्वीकार कर लिया और कल वह हमारी परिषद के कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करेंगे. 

VIDEO: मध्य प्रदेश में बसपा ने क्यों खेला दांव

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement