NDTV Khabar

राहुल पीएम मोदी पर बरसे, मध्यप्रदेश के मंत्री ने कहा 'थ्री ईडियट्स' के चतुर

राहुल गांधी ने कहा- मेक इन इंडिया असफल रहा; सब कुछ मेड इन चायना है, हमारी सरकार बनी तो हम मेड इन मंदसौर बनाएंगे

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राहुल पीएम मोदी पर बरसे, मध्यप्रदेश के मंत्री ने कहा 'थ्री ईडियट्स' के चतुर

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मध्यप्रदेश के मंदसौर में रैली को संबोधित किया.

खास बातें

  1. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंदसौर में रैली को किया संबोधित
  2. मंदसौर गोलीकांड में मृत लोगों के परिजनों से भी मिले राहुल
  3. सहकारिता मंत्री विश्वास सारंग ने राहुल पर साधा निशाना
मंदसौर:

मंदसौर गोलीकांड में मृत लोगों के परिजनों से पिपलिया मंडी में मंच के पीछे जाकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मुलाक़ात की. रैली को नाम दिया गया था किसान समृद्धि-संकल्प. राहुल जब मंच पर आए तो कांग्रेस की सरकार बनते ही, कर्ज माफी जैसे चुनावी वादे किए और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना भी साधा.
       
राहुल ने अपने 45 मिनट के भाषण में कहा "चाहे जो हो मैं वादा करता हूं, हमारी सरकारी बनते ही दसवें दिन किसानों को कर्ज माफी मिलेगी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए राहुल गांधी ने कहा "क्या यहां कोई कह सकता है कि मोदी जी ने नौकरी दी? मेक इन इंडिया असफल रहा, सब कुछ मेड इन चायना है और हमारे प्रधानमंत्री उनके साथ गुजरात में झूला झूलते हैं. हमारी सरकार बनी तो हम मेड इन मंदसौर बनाएंगे.''

राहुल के सवाल पर सरकार ने जवाब के बजाए सवाल दागा. मध्यप्रदेश सरकार में सहकारिता मंत्री विश्वास सारंग  राहुल गांधी के भाषण को स्क्रिप्टेड बताते हुए उसकी तुलना थ्री ईडियट्स के चतुर से की, जो किसी दूसरे का  भाषण पढ़ता था. सारंग ने कहा कि ''जो फूड प्रोसेसिंग यूनिट लगाने की बात शिवराज सरकार पहले से कर रही है और उस पर काम चल रहा है, उसे ही राहुल अपने भाषण में कह रहे हैं. सारंग ने कहा कि भाषण के दौरान एक मोबाइल फोन दिखाकर राहुल ने कहा कि मोदी के मोबाइल में मेड इन चीन होता है. अगली बार जब वे यहां आएंगे तो मोबाइल पर लिखा होगा मेड इन मंदसौर. लेकिन वे यह बताएं कि आज तक वे ऐसी कोई चीज क्यों नहीं बनवा पाए जिस पर मेड इन अमेठी लिखा हो?''


यह भी पढ़ें : मंदसौर में राहुल गांधी की रैली, चुनावी सियासत के केंद्र में किसान 

टिप्पणियां

राहुल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की रैली के हफ्ते भर बाद मंदसौर आए. पिछले साल 6 जून को ही पुलिस ने फसलों की वाजिब कीमत की मांग को लेकर हिंसक हो चुके किसान आंदोलन में गोलियां चलाई थीं, जिसमें पांच किसानों की मौत हुई थी. एक ने लाठीचार्ज के बाद अस्पताल में दम तोड़ दिया.

VIDEO : किसानों से 10 दिन में कर्ज माफी का वादा
     
कांग्रेस की रैली को नवंबर में होने वाले विधानसभा चुनावों के शंखनाद के तौर पर देखा जा रहा है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement