NDTV Khabar

आध्यात्मिक गुरु भय्यू जी महाराज ने खुद को गोली मारकर की आत्महत्या

भय्यूजी महाराज उस समय चर्चा में आये थे जब अन्ना आंदोलन के समय उन्होंने सरकार के साथ बातचीत में बड़ी भूमिका निभाई थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
आध्यात्मिक गुरु भय्यू जी महाराज ने खुद को गोली मारकर की आत्महत्या

खास बातें

  1. हाइप्रोफाइल संत थे भय्यू जी महाराज
  2. जमींदार परिवार से थे भय्यू जी
  3. कई नामी हस्तियां थी उनकी भक्त
भोपाल: अाध्यात्मिक गुरु भय्यूजी महाराज ने गोली मारकर आत्महत्या कर ली है. इंदौर के बॉम्बे अस्पताल में उनकी मौत की पुष्टि की है. उनके खुदकुशी के पीछे पारिवारिक कारण बताये जा रहे हैं.हाल ही में उन्होंने शादी की थी. भय्यूजी महाराज उस समय चर्चा में आये थे जब अन्ना आंदोलन के समय उन्होंने सरकार के साथ बातचीत में बड़ी भूमिका निभाई थी. उस आंदोलन के समय शरद यादव ने भय्यू जी महाराज की आलोचना भी की थी. भय्यू जी महाराज के भक्तों में कई नामी-गिरामी की हस्तियां शामिल थीं. वह पहले फैशन डिजाइनर थे बाद में अध्यात्म की ओर मुड़ गये. 

नरेंद्र मोदी और अण्णा हजारे को जूस पिलाकर अनशन तुड़वाने वाले कौन थे भय्यूजी महाराज, 10 बड़ी बातें

टिप्पणियां
भय्यू महाराज को मॉडर्न और राष्ट्रीय संत माना जाता था. उन्होंने करीब 49 साल की उम्र में दूसरी शादी की थी. उन्होंने पहली पत्नी की मौत होने के बाद बेटी कुहू और मां का ख्याल रखने के लिए ही ये शादी की थी. उनकी पहली पत्नी माधवी का दो साल पहले निधन हो चुका है. पहली शादी से उनकी एक बेटी कुहू है, जो पुणे में रहकर पढ़ाई कर रही है.

वीडियो : अन्ना आंदोलन के समय भय्यू जी ने निभाई थी भूमिका

1968 को जन्मे भय्यू महाराज का असली नाम उदयसिंह देखमुख था. वह शुजालपुर के जमींदार परिवार से ताल्लुक रखते थे. कभी कपड़ों के एक ब्रांड के लिए मॉडलिंग कर चुके भय्यू महाराज अब गृहस्थ संत थे. सदगुरु दत्त धार्मिक ट्रस्ट उनके ही देखरेख में चलता था. 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement