NDTV Khabar

मध्यप्रदेश में पर्यटन को प्रमोट करेंगे सलमान खान, कमलनाथ ने पेश किया सरकार का रिपोर्ट कार्ड

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने दावा किया कि कांग्रेस सरकार ने 76 दिनों में अपने वचन पत्र के 83 वादे पूरे किए

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मध्यप्रदेश में पर्यटन को प्रमोट करेंगे सलमान खान, कमलनाथ ने पेश किया सरकार का रिपोर्ट कार्ड

सलमान खान (Salman Khan) मध्यप्रदेश में अप्रैल में टूरिज्म को प्रमोट करेंगे.

खास बातें

  1. शुक्रवार की शाम तक 25 लाख किसानों का कर्जा माफ हो जाएगा
  2. पिछड़ा वर्ग को 27 और सामान्य को 10 फीसदी आरक्षण मिलेगा
  3. कहा- सबसे ज्यादा आतंकी हमले एनडीए सरकार के दौरान हुए
भोपाल:

मध्यप्रदेश में पर्यटन (Madhya Pradesh Tourism) को प्रोत्साहित करने के लिए राज्य सरकार फिल्मी सितारे सलमान खान (Salman Khan) की मदद लेगी. आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) ने कहा कि सलमान खान से बात की है. वे इंदौर के हैं. वे मध्यप्रदेश में पर्यटन को प्रमोट करने के लिए एक अप्रैल से 18 अप्रैल तक प्रदेश में रहेंगे.

सीएम कमलनाथ (Kamal Nath) ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार (Congress Government) के 76 दिन के कार्यकाल का रिपोर्ट कार्ड पेश किया. उन्होंने एक पत्रकार वार्ता में कहा कि सरकार के 76 दिन हो गए हैं. जब सरकार बनी तब प्रदेश कंगाल था, खजाना खाली था. प्राथमिकता थी कि कृषि को ताकत दें. किसानों का कर्जा माफ किया. उन्होंने कहा कि कल शाम तक 25 लाख किसानों का कर्जा माफ हो जाएगा. दो-तीन लाख किसान बचे हैं, जिनके उलझे हुए केस हैं. लक्ष्य पचास लाख किसानों का कर्जा माफ करना है.

यह भी पढ़ें : मध्य प्रदेश : लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस सरकार ने चला ऐसा दांव , बीजेपी के खेमे में मच गई हलचल


कमलनाथ ने कहा कि हमने आरक्षण लागू कर दिया है. पिछड़ा वर्ग को 27 फीसदी और सामान्य को 10 फीसदी आरक्षण मिलेगा. उन्होंने कहा कि 76 दिनों में वचन पत्र के 83 वादे पूरे किए हैं.

VIDEO : किसानों का मदद के लिए कंट्रोल रूम

टिप्पणियां

कमलनाथ (Kamal Nath) ने कहा सबसे ज्यादा आतंकी हमले एनडीए सरकार के दौरान हुए. वे (बीजेपी) आज कह रहे हैं कि हमारे नेतृत्व में देश सुरक्षित है. वे झूठ बोल रहे हैं, गुमराह कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि एयर स्ट्राइक पर शक क्यों हो रहा है, क्योंकि सारा विदेशी मीडिया इस पर सवाल उठा रहा है. एयर मार्शल ने भी कहा कि कितने मरे मालूम नहीं. अगर शक शंका है तो सरकार को सारी बातें सामने रख देनी चाहिए. सरकार बता दे कि कितने लोग मरे, कितनी इमारतें नष्ट हुईं, ये सब बता दे.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement