NDTV Khabar

भाजपा नेता द्वारा महिला पटवारी से अभद्रता पर, राज्य मानवाधिकार आयोग का पुलिस से सवाल

आयोग ने प्राथमिकी दर्ज करने में हुई देरी पर रायसेन के पुलिस अधीक्षक से प्रतिवेदन तलब किया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भाजपा नेता द्वारा महिला पटवारी से अभद्रता पर, राज्य मानवाधिकार आयोग का पुलिस से सवाल

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

खास बातें

  1. मध्य प्रदेश की राजधानी के करीब स्थित मंडीदीप की घटना.
  2. आयोग ने पूछा, एफआईआर में विलंब क्यों हो रहा है.
  3. कहा, महिला के प्रति अपराध हुआ है तो आरोपी की गिरफ्तारी की क्या स्थिति है.
भोपाल: मध्य प्रदेश की राजधानी के करीब स्थित मंडीदीप में भाजपा नेता द्वारा महिला पटवारी के साथ किए गए अभद्र व्यवहार पर राज्य मानवाधिकार आयोग ने संज्ञान लिया. आयोग ने प्राथमिकी दर्ज करने में हुई देरी पर रायसेन के पुलिस अधीक्षक से प्रतिवेदन तलब किया है. आयोग के कार्यालय से शनिवार को जारी विज्ञप्ति के मुताबिक, मंडीदीप की महिला पटवारी के साथ हुई अभद्रता के मामले में शिकायत के 13 दिन बाद भी पुलिस द्वारा साक्षियों के बयान नहीं ले पाने के मामले को संज्ञान लिया गया है. 

यह भी पढ़ें : मानवाधिकार आयोग की रिपोर्ट पर मध्य प्रदेश के पुलिस अफसर से वीरता पदक वापस लिया गया

पीड़िता का कहना है कि भाजपा युवा मोर्चा औबेदुल्लागंज मंडल के उपाध्यक्ष संजय प्रजापति से अवैध ईंट-भट्टों की जांच के दौरान जमीन के संबंध में विवाद हुआ था. उसके बाद से आरोपी समझौता करने का दबाव बना रहे हैं. 

VIDEO : रोहिंग्या मुस्लिमों का मामला : राजनाथ सिंह ने कहा- रोहिंग्या का मुद्दा मानवाधिकार का मसला नहीं​


टिप्पणियां
आयोग ने इस मामले में रायसेन के पुलिस अधीक्षक से प्रतिवेदन तलब करते हुए पूछा और साथ ही जानना चाहा कि 'एफआईआर में विलंब क्यों हो रहा है. दोषी पुलिस कर्मी के विरुद्ध क्या कार्रवाई की गई है, महिला के प्रति अपराध हुआ है तो आरोपी की गिरफ्तारी की क्या स्थिति है.'

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement