NDTV Khabar

मध्य प्रदेश में जुड़वा भाइयों की हत्याः शिवराज सिंह चौहान ने सीबीआई जांच की उठाई मांग, दिया ये तर्क

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जुड़वा भाइयों की हत्या के मामले की सीबीआई से जांच करने की मांग उठाई है. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मध्य प्रदेश में जुड़वा भाइयों की हत्याः शिवराज सिंह चौहान ने सीबीआई जांच की उठाई मांग, दिया ये तर्क

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मासूमों की हत्या के मामले में पीड़ित परिवार से मुलाकात की.

नई दिल्ली:

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने जुड़वा भाइयों की हत्या के मामले की सीबीआई से जांच करने की मांग उठाई है. दो भाइयों का 12 फरवरी को चित्रकूट में स्कूल बस से अपहरण हो गया था. उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में नदी के किनारे दोनों भाइयों का बाद में शव बरामद हुआ था. पुलिस के मुताबिक भाइयों का पत्थर के सहारे हाथ बांध दिया गया था .शिवराज सिंह चौहान ने कहा-मैं मुख्यमंत्री कमलनाथ को बताना चाहूंगा कि केस वह सीबीआई को सौंपे. क्योंकि घटना को दूसरा रूप देने की कोशिश हो रही है. जांच टीम को मामले में सफलता क्यों नहीं मिली? पीड़ित परिवार से मिलने के बाद रविवार को शिवराज सिंह चौहान ने यह बात कही.

यह भी पढ़ें- मध्य प्रदेश: चित्रकूट से अपहृत जुड़वां भाइयों की हत्या, बजरंग दल के नेता के भाई सहित 6 गिरफ्तार 


बजरंग दल नेता का भाई गिरफ्तार
 मध्य प्रदेश में सतना जिले के चित्रकूट से 12 दिन पहले स्कूल बस से अपहृत किए गए छह वर्षीय जुड़वां भाइयों की हत्या  के मामले में पुलिस ने अब तक इंजीनियरिंग के दो छात्रों के सहित 6 लोगों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार किए गए 2 इंजीनियरिंग छात्रों में से एक इंजीनियरिंग छात्र बजरंग दल के क्षेत्रीय नेता का भाई है. रीवा के पुलिस महानिरीक्षक चंचल शेखर एवं सतना पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह गौर ने चित्रकूट में संवाददाताओं को बताया कि जुड़वां भाइयों के शव उत्तर प्रदेश में बांदा जिले के बबेरू गांव के पास यमुना नदी में शनिवार देर रात पानी में तैरते मिले. आरोपियों ने 21 फरवरी को इनकी हत्या कर दी थी. प्रारंभिक जांच में पता चला है कि उन्हें आरोपियों ने लोहे की जंजीरों से बांध कर यमुना नदी के उगासी घाट में फेंका था.

टिप्पणियां

वीडियो- बीजेपी नेता की हत्‍या पर बोले शिवराज सिंह चौहान, मन में गुस्सा और दुख है 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement