NDTV Khabar

केंद्रीय मंत्री उमा भारती के पीएसओ ने पुलिस वाहन में गोली मारकर आत्महत्या की

पत्नी से विवाद होने के बाद पुलिस के समझाने पर भी नहीं माने पीएसओ राम मोहन दौनेरिया, पुलिस थाने ले जाते समय रास्ते में खुदकुशी की

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
केंद्रीय मंत्री उमा भारती के पीएसओ ने पुलिस वाहन में गोली मारकर आत्महत्या की

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  1. दौनेरिया की पत्नी ने रात 11 बजे पति द्वारा पीटे जाने की शिकायत की थी
  2. डायल 100 के पुलिस कर्मियों ने घर पहुंचकर दौनेरिया को समझाने की कोशिश की
  3. मध्यप्रदेश विशेष सशस्त्र बल में कंपनी कमांडर रैंक के अधिकारी थे दौनेरिया
भोपाल: केंद्रीय पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री एवं मध्यप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती के निजी सुरक्षा अधिकारी (पीएसओ) ने भोपाल में पत्नी से विवाद होने के बाद कथित तौर पर पुलिस वाहन में अपनी सर्विस पिस्तौल से गोली मारकर खुदकुशी कर ली.

उमा भारती के पीएसओ मध्यप्रदेश विशेष सशस्त्र बल (एसएएफ) में कंपनी कमांडर रैंक के अधिकारी थे. कमला नगर पुलिस थाना प्रभारी मदन मोहन मालवीय ने बताया कि ‘‘अपनी पत्नी से हुए विवाद के बाद 32 वर्षीय राम मोहन दौनेरिया ने कल मध्यरात्रि के आसपास अपनी सर्विस पिस्तौल से सिर में गोली मार ली जिससे उनकी मौत हो गई.’’ उन्होंने बताया कि वह उमा भारती के पीएसओ थे और अपने परिवार के साथ शहर के नेहरू नगर में रहते थे.

मालवीय ने बताया कि दौनेरिया की पत्नी का बुधवार को रात में 11 बजे के आसपास पुलिस की फर्स्ट रिस्पांस वाहन सेवा के डायल 100 पर फोन आया था कि उसके पति नशे की हालत में उसे गालियां दे रहे हैं और उसके साथ मारपीट कर रहे हैं. उन्होंने बताया कि शिकायत मिलने के बाद डायल 100 उनके घर पहुंची और इस दंपति से बात कर दोनों को समझाया कि विवाद न करें. हालांकि, डायल 100 के कर्मियों के समझाने का उन पर कोई असर नहीं हुआ. इसके बाद उसकी पत्नी ने कहा कि वह पुलिस थाने में अपने पति के खिलाफ शिकायत दर्ज करेगी.

यह भी पढ़ें : उत्तर-प्रदेश : युवक ने पत्नी और तीन बेटियों की हत्या कर खुदको लगाई फांसी 

मालवीय ने बताया कि बाद में इस दंपति को कमला नगर पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराने के लिए डायल 100 वाहन में लाया जा रहा था, तभी आधे रास्ते में दौनेरिया ने अपनी सर्विस पिस्तौल से अपने सिर में गोली मार ली. उन्होंने कहा कि उसे तुरंत पास के ही एक अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत लाया हुआ घोषित कर दिया.

टिप्पणियां
VIDEO : लड़की ने पुलिस थाने में की खुदकुशी

जब पुलिस अधीक्षक (पुलिस मुख्यालय) धर्मवीर सिंह यादव ने पूछा गया कि क्या राम मोहन दौनेरिया उमा भारती के पीएसओ थे, तो उन्होंने कहा, ‘‘हां, वह उनकी सुरक्षा में तैनात थे.’’ भोपाल दक्षिण के पुलिस अधीक्षक ने बताया कि दौनेरिया मध्यप्रदेश पुलिस की एसएएफ में कंपनी कमांडर रैंक के अधिकारी थे.
(इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement