NDTV Khabar

वाजपेयी की भतीजी ने शोकसभा में हंसी-ठिठोली करने वाले BJP सरकार के मंत्रियों का मांगा इस्तीफा

करुणा शुक्ला ने कहा था कि पिछले दस वर्षों से अटल बिहारी वाजपेयी को बीजेपी ने परिदृश्य से पूरी तरह से गायब कर दिया था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
वाजपेयी की भतीजी ने शोकसभा में हंसी-ठिठोली करने वाले BJP सरकार के मंत्रियों का मांगा इस्तीफा

शोकसभा के दौरान हंसी ठिठोली करते रमन सरकार के मंत्री

खास बातें

  1. रमन सरकार में हैं दोनों मंत्री
  2. करुणा शुुक्ला हैं वाजपेयी की भतीजी
  3. कांग्रेस में हो गई थीं शामिल
रायपुर:

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी  की भतीजी करूणा शुक्ला ने दिवंगत भाजपा नेता के लिए आयोजित एक श्रद्धांजलि सभा के एक कथित वीडियो में हंसते नजर आ रहे छत्तीसगढ़ के दो मंत्रियों से आज इस्तीफा देने की मांग की. गौरतलब है कि एक वीडियो सामने आया है जिसमें 23 अगस्त को वाजपेयी के लिए आयोजित शोकसभा के दौरान मंच के सामने कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल और स्वास्थ्य मंत्री अजय चंद्रकार एक दूसरे से बातचीत करते हुये और हंसते हुये नजर आ रहे हैं.  कांग्रेस की सदस्य करूणा ने कहा कि उन्हें भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के मंत्रियों के व्यवहार से दुख हुआ है. एक संवाददाता सम्मेलन में उन्होंने कहा, ‘‘उनका राज्य बनाने वाले भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी के प्रति उनमें कोई सम्मान नहीं है.’’ छत्तीसगढ़ का गठन उस समय हुआ था जब वाजपेयी प्रधानमंत्री थे. 

वाजपेयी की अस्थियों के विसर्जन करने के दौरान नाव का संतुलन बिगड़ा, नदी में गिरे सांसद-विधायक और डीएम-एसपी


इससे पहले करुणा शुक्ला ने कहा था कि पिछले दस वर्षों से अटल बिहारी वाजपेयी को बीजेपी ने परिदृश्य से पूरी तरह से गायब कर दिया था. अब चूंकि चार राज्यों में बीजेपी की नैया डूबती हुई दिख रही है तो एकाएक बीजेपी को वाजपेयी डूबते को तिनके के सहारे की तरह दिख रहे हैं. उन्होंने कहा कि वे वाजपेयी के नाम पर बीजेपी की राजनीति से व्यथित हैं. करुणा शुक्ला ने एक टीवी चैनल से कहा है कि वाजपेयी की मृत्यु के बाद बीजेपी जिस तरह से उनके नाम को राजनीति के लिए भुनाने में जुटी है, उससे वह क्षुब्ध और व्यथित हैं. शुक्ला ने कहा है कि चार राज्यों में होने वाले चुनाव को ध्यान में रखते हुए ही बीजेपी को वाजपेयी के नाम को भुनाने का ध्यान आया है.

टिप्पणियां

सामने आई थीं मंत्रियों की तस्वीरें

वहीं उनके आरोपों पर बीजेपी ने भी पलटवार किया है. पार्टी प्रवक्ता नलिन कोहली ने कहा कि वह (करुणा शुक्ला) कांग्रेस के साथ हैं और वह कांग्रेस की टिकट पर चुनाव भी लड़ चुकी हैं. वह अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर राजनीति करने की कोशिश कर रही हैं. यह दुर्भाग्यशाली है. हम इसे राजनीति से कहीं ज्यादा और ऊपर मानते हैं. कोहली ने कहा कि वाजपेयी सबसे लंबे समय तक रहने वाले गैर-कांग्रेसी प्रधान मंत्री थे. वह एक ऐसे व्यक्ति थे जिन्हें पार्टी लाइन से हटकर भी लोग प्यार करते थे.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement