NDTV Khabar

सत्ता का नशा : मध्य प्रदेश में मंत्री जी के भतीजे ने दिखाया ट्रैफिक पुलिस को रौब, देखें Video

मामला रविवार का है जब इंदौर के पिपलियापाला के रीजनल पार्क चौराहे पर ट्रैफिक जवान और कांग्रेसी नेता अभय वर्मा के बीच गाड़ी छोड़ने को लेकर विवाद शुरू हुआ.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सत्ता का नशा : मध्य प्रदेश में मंत्री जी के भतीजे ने दिखाया ट्रैफिक पुलिस को रौब, देखें Video

लोक निर्माण विभाग के मंत्री सज्जन सिंह वर्मा के भतीजे अभय वर्मा

भोपाल:

मध्य प्रदेश में सत्ता का नशा कांग्रेस नेताओं और उनके रिश्तेदारों पर सिर चढ़कर बोल रहा है. कुछ दिन पहले ही इंदौर में ट्रैफिक पुलिस को कांग्रेस के नेताओं के गुस्से का सामना करना पड़ा जिसका वीडियो चर्चा का केंद्र बन गया था ऐसा ही एक मामला और सामने आया है और इसका वीडियो भी खूब वायरल हो रहा है. मध्य प्रदेश सरकार के लोक निर्माण विभाग के मंत्री सज्जन सिंह वर्मा के भतीजे अभय वर्मा जो कि इंदौर नगर निगम में अभी पार्षद है और निगम में प्रतिपक्ष के नेता भी रह चुके है, वो पुलिसवालों का अपना रौब झाड़ते दिखाई दिए.   मामला रविवार का है जब इंदौर के पिपलियापाला के रीजनल पार्क चौराहे पर ट्रैफिक जवान और कांग्रेसी नेता अभय वर्मा के बीच गाड़ी छोड़ने को लेकर विवाद शुरू हुआ.  वीडियो में महिला पुलिस अधिकारी कह रही हैं कि वर्मा मोबाइल पर बात करते हुए गाड़ी चला रहे थे और जब ट्रैफिक जवान ने उन्हें रोका तो उन्होंने कहा, 'मेरे मुंह मत लग रास्ते से हट'. कहकर रौब झाड़ने की कोशिश की. इसके बाद पुलिसवालों ने गाड़ी रूकवाई, नेताजी से गाड़ी के कागज़ात दिखाने को कहा तो गाड़ी में कागज़ात भी नहीं थे. 


ट्रैफिक पुलिस अधिकारी ने नेता पर कार्रवाई की, प्रशासन ने 'तनाव से मुक्ति' के लिए भेजा, देखें - VIDEO


बहस के बाद भी जब महिला पुलिसकर्मी ने नेताजी की गाड़ी नहीं छोड़ी तो अभय वर्मा शिकायत की बात कहते हुए वहां से निकल गए.  कुछ देर बाद फिर पार्षद अभय वर्मा और उनके समर्थन में कई कांग्रेसी नेता भी मौके पर पहुंच गए.  इस दौरान ट्रैफिक पुलिस  के वरिष्ठ अधिकारी भी मौके पर थे और उन्होंने शिकायत पर आवेदन देने की बात कही तो नेता अभय वर्मा फिर भड़क गए. करीब 30 मिनट तक चौराहे पर पूरा ड्रामा चलता रहा लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला. 

कमलनाथ के सहयोगियों पर छापा : दुबई में प्रॉपर्टी, कई राजनेता शक के घेरे में, पर्दे के पीछे की 10 बड़ी बातें


गौरतलब है कि इससे पहले इंदौर में ही एक पुलिसवाले ने सत्ताधारी दल के नेता की गाड़ी को रोकने की गुस्ताखी की थी तो उन्हें हफ्ते भर की स्ट्रेस मैनजमेंट, यानी तनावी मुक्ति ट्रेनिंग पर भेज दिया गया था.

टिप्पणियां

एमपी के CM के OSD के घर आयकर विभाग का छापा​



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement