NDTV Khabar

व्यापम मामला: स्पेशल कोर्ट ने नम्रता दामोर मौत मामले में सीबीआई की क्लोजर रिपोर्ट को ठुकराया

इस रिपोर्ट में सीबीआई ने नम्रता दामोर के जानकार और साथ पढ़ाई करने वाले छात्रों से पूछताछ के आधार पर कहा था कि नम्रता दामोर की किसी ने हत्या नहीं की बल्कि उसने ट्रेन से कूदकर खुदकुशी की थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
व्यापम मामला: स्पेशल कोर्ट ने नम्रता दामोर मौत मामले में सीबीआई की क्लोजर रिपोर्ट को ठुकराया

प्रतीकात्मक चित्र

खास बातें

  1. स्पेशल कोर्ट ने सीबीआई को दोबारा जांच के लिए कहा
  2. 2012 में हुई थी नम्रता दामोर की मौत
  3. 2017 से मामले की जांच कर रही है सीबीआई
नई दिल्ली:

इंदौर की विशेष अदालत ने सीबीआई द्वारा नम्रता दामोर मौत मामले में पेश की गई क्लोजर रिपोर्ट को ठुकरा दिया है. सीबीआई को इस मामले की जांच की जिम्मेदारी वर्ष 2015 में दी गई थी. जबकि नम्रता दामोर की मौत जनवरी 2012 में हुई थी. दामोर एमबीबीएस की छात्रा थीं. इस मामले को लेकर सीबीआई ने इससे पहले दिसंबर 2017 में क्लोजर रिपोर्ट दाखिल की थी. इस रिपोर्ट में सीबीआई ने नम्रता दामोर के जानकार और साथ पढ़ाई करने वाले छात्रों से पूछताछ के आधार पर कहा था कि नम्रता दामोर की किसी ने हत्या नहीं की बल्कि उसने ट्रेन से कूदकर खुदकुशी की थी.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने व्यापम घोटाले पर मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ को लिखा पत्र, बोले...


हालांकि, सीबीआई की इस दलील से नम्रता दोमार के पिता मेहताब सिंह संतुष्ट नहीं थे. इसके बाद ही स्पेशल कोर्ट ने उस समय सीबीआई की क्लोजर रिपोर्ट को खारिज करते हुए, इस मामले की फिर से जांच करने को कहा था. बता दें कि सीबीआई ने कोर्ट ने नम्रता दामोर हत्या के अलावा कुल 23 संदिग्ध मौतों को लेकर भी क्लोजर रिपोर्ट दाखिल की है. जिसमें मौत की वजह संदिग्ध हालत में  मौत, दुर्घटना, आत्महत्या और स्वास्थ्य कारणों को बताया गया है. 

Vyapam Scam: व्यापम घोटाले का जिन्न फिर आएगा बाहर, ये शख्स खोलेंगे सारे राज

गौरतलब है कि व्यापम घोटाले के कवर-अप की कोशिशों के आरोप अब 19-वर्षीय मेडिकल छात्रा नम्रता दामोर की तीन साल पहले हुई मौत पर आकर केंद्रित हो गए थे, जिसकी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में 'गला घोंटकर' मारे जाने की बात होने के बावजूद पुलिस ने आत्महत्या कहकर खारिज कर दिया था.

नम्रता दामोर की ऑटोप्सी (पोस्टमार्टम) करने वाले तीन डॉक्टरों में से एक बीबी पुरोहित ने कहा था कि उसकी हत्या की गई थी.उसकी मौत के प्राकृतिक होने का एक प्रतिशत भी चान्स नहीं है.नम्रता दामोर की मौत का किस्सा दोबारा सुर्खियों में पिछले दिनों तब आया, जब उसके पिता का साक्षात्कार करने के कुछ ही मिनट बाद एक टीवी पत्रकार की मौत हो थी.

मध्य प्रदेश में सत्ता बदलते ही फिर बाहर आया व्यापम घोटाले का जिन्न, दोबारा खुलेगी फाइल

नम्रता का शव जनवरी, 2012 में उज्जैन में रेल की पटरियों के पास पड़ा मिला था. वर्ष 2014 में जब पुलिस ने मामले की क्लोज़र रिपोर्ट दाखिल की, तो उन्होंने इसे खुदकुशी बताया, जो पोस्टमार्टम रिपोर्ट से बिल्कुल उलट था, क्योंकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक, नम्रता की मौत 'मुंह-नाक दबोचे जाने की वजह से हिंसक तरीके से दम घुटने' के कारण हुई थी, और ये निष्कर्ष स्पष्ट संकेत देते हैं कि नम्रता की हत्या की गई थी.

पनामा पेपर्स के बयान पर फंसे राहुल गांधी तो बोले- बीजेपी में इतना भ्रष्टाचार कि कन्फ्यूज हो गया

NDTV से बातचीत करते हुए डॉ. बीबी पुरोहित ने कहा था कि पोस्टमार्टम करने वाले पैनल में शामिल हम तीनों डॉक्टरों को 25-25 साल से भी ज़्यादा का तजुर्बा है.उसकी (नम्रता की) नाक और मुंह पर खरोंचें थीं, जिससे संकेत मिलता है कि उसका गला दबाया गया था.इस पोस्टमार्टम के दो साल बाद पुलिस ने कहा था कि छात्रा ट्रेन से गिर गई थी. वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मनोहर वर्मा ने कहा था हमने उसकी मौत की जांच की और फॉरेंसिक विशेषज्ञों के साथ मिलकर सीन को री-क्रिएट किया. हमें ऐसा कुछ नहीं मिला, जिससे हत्या किए जाने के संकेत मिल सकें. अगर कोई नए सबूत सामने आते हैं, हम दोबारा जांच कर सकते हैं, लेकिन फिलहाल कुछ भी ऐसा नही है. 

3800 आरोपियों वाले व्यापम घोटाले पर प्रधानमंत्री मोदी बोल सकते हैं?

टिप्पणियां

मेडिकल की दूसरे वर्ष की छात्रा नम्रता कथित रूप से उन आवेदकों में शामिल थी, जिन्होंने गलत तरीकों से मेडिकल प्रवेश परीक्षा पास की थी. इस परीक्षा को पास करने के लिए लाखों आवेदकों ने राजनेताओं और नौकरशाहों को कथित रूप से रिश्वत दी थी, जिन्होंने किन्हीं और लोगों को परीक्षा में बिठाकर उत्तर-पुस्तिकाएं लिखने दीं.पिछले शनिवार को पत्रकार अक्षय सिंह झाबुआ स्थित नम्रता के घर में उसके पिता से बातचीत कर रहे थे, तभी उनके मुंह से झाग निकलने लगा, और वह गिर पड़े. डॉक्टरों का कहना था कि उनकी मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई, लेकिन अक्षय के परिवार के विरोध के बाद दिल्ली के एम्स अस्पताल में मौत के कारणों की जांच की जा रही है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... सलमान खान को देखकर सारा अली खान ने किया 'आदाब' तो भाईजान ने लगाया गले- देखें Video

Advertisement