NDTV Khabar

...जब धरने पर बैठे पूर्व CM शिवराज सिंह रात में करने लगे भजन-कीर्तन, सांसद ने बजाई डफली, देखें VIDEO

शिवराज सिंह चौहान के अलावा मनासा से विधायक माधव मारू ने भी भजन गाए, वहीं सांसद सुधीर गुप्ता डफली बजाते दिखे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
...जब धरने पर बैठे पूर्व CM शिवराज सिंह रात में करने लगे भजन-कीर्तन, सांसद ने बजाई डफली, देखें VIDEO

धरने पर बैठे शिवराज सिंह चौहान.

भोपाल:

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान राज्य के मंदसौर में कलेक्टर कार्यालय के बाहर शनिवार से दो दिन के धरने पर बैठे हैं. चौहान बाढ़ पीड़ितों की मदद और कर्ज माफी समेत अन्य मांगों को लेकर सरकार के खिलाफ धरना दे रहे हैं. इस धरने में रात्रि जागरण कर भजन कीर्तन किया गया, जिसमें शिवराज सिंह चौहान ने भी भजन गाए. शिवराज सिंह चौहान का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वह भजन गा रहे हैं. शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सरकार को सद्बुद्धि देने के लिए यह भजन कीर्तन किए जा रहे हैं. उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस उन पर लगातार आरोप लगाती है लेकिन उनके साथ एक दिन रह कर देखें कि उनका जीवन कैसा है? तब उन्हें पता चलेगा कि शिवराज का जीवन कैसा है ? 

शिवराज सिंह चौहान के अलावा मनासा से विधायक माधव मारू ने भी भजन गाए, वहीं सांसद सुधीर गुप्ता ढपली बजाते दिखे.


बता दें, मध्य प्रदेश में अतिवृष्टि और बाढ़ से पीड़ित किसानों को मुआवजा दिए जाने की मांग को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने शुक्रवार को विधानसभावार धरना-प्रदर्शन किया था. इस दौरान भाजपा नेताओं ने राज्य की कमलनाथ सरकार को किसान विरोधी बताया. राज्य में सत्ता से बाहर होने के बाद भाजपा का यह दूसरा बड़ा आंदोलन था, जिसमें पार्टी के तमाम नेताओं ने हिस्सा लिया. भाजपा ने आरोप लगाया है कि "राज्य में अतिवृष्टि और बाढ़ के कारण बड़े पैमाने पर किसानों की फसलों को नुकसान हुआ है. राज्य सरकार ने किसानों को राहत दिलाने के लिए अब तक सर्वे कार्य तक शुरू नहीं किया है. किसान परेशान हैं, सरकार का रवैया किसान विरोधी है."

कुंभकर्ण, घंटे और ढोल-मंजीरों के साथ बीजेपी ने पूरे मध्यप्रदेश में किया विरोध प्रदर्शन, कांग्रेस ने दिया जवाब

भाजपा का आरोप है, "प्रशासन और प्रदेश सरकार राहत कार्य किए जाने के बड़े-बड़े दावे कर रही है, लेकिन पीड़ितों को वास्तव में पेट भरने तक के लिए कुछ नहीं मिल पाया है. मंदसौर जिले में बाढ़ पीड़ित समाजसेवियों और अपने रिश्तेदारों पर निर्भर हैं. वहां छह दिनों बाद भी सरकार पीड़ितों के बीच नही पहुंच पाई है." 

बीजेपी ने पार्टी के 'नेता पुत्रों' को सड़क के रास्ते सत्ता में पहुंचाने का प्लान बनाया

विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने सागर जिले के रहली में आंदोलन का नेतृत्व किया. उन्होंने कहा, "भाजपा सरकार में जब ओला पाला या प्राकृतिक आपदा होती थी, तो मुखिया शिवराज सिंह चौहान और सभी मंत्री किसानों के बीच उनके खेतों में पहुंच जाते थे. प्रदेश में आज बाढ़ के हालत हैं तो दिल्ली से केंद्रीय अध्ययन दल बाढ़ग्रस्त इलाकों में नुकसान का जायजा लेने पहुंच चुका. लेकिन प्रदेश के मुखिया कमलनाथ अभी तक बाढ़ पीड़ितों को देखने तक नहीं पहुंचे हैं. कांग्रेस सरकार के मंत्री बाढ़ग्रस्त इलाकों में मुआवजा देने के बजाय अधिकारियों से आवभगत करवा रहे हैं."

टिप्पणियां

मध्य प्रदेश: कांग्रेस में अंदरूनी कलह खुल कर आई सामने, शिवराज सिंह ने कहा सीएम तो कमलनाथ लेकिन सरकार...

VIDEO: कमलनाथ सरकार को घेरने के लिए MP में बीजेपी नेतापुत्र हुए लामबंद



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement