NDTV Khabar

दही हांडी समारोहों के दौरान 2 गोविंदाओं की मौत, 117 लोग घायल

जन्माष्टमी के अवसर पर मुंबई एवं आसपास के इलाकों में दही हांडी समारोहों के दौरान दो गोविंदाओं की मौत हो गई तथा 117 अन्य घायल हो गए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दही हांडी समारोहों के दौरान 2 गोविंदाओं की मौत, 117 लोग घायल

जन्माष्टमी का त्योहार घाटकोपर, दादर, लालबाग और भांडुप सहित समूचे शहर में पूरे उत्साह के साथ मनाया गया.

मुंबई: जन्माष्टमी के अवसर पर मुंबई एवं आसपास के इलाकों में दही हांडी समारोहों के दौरान मानव पिरामिड बनाते समय हुई दुर्घटनाओं दो गोविंदाओं की मौत हो गई तथा 117 अन्य घायल हो गए. पालघर और ऐरोली में एक-एक गोविंदा की मौत हुई. इस अवसर पर दही हांडी तोड़ने के लिए समूचे महाराष्ट्र में गोविंदाओं की टोलियों के बीच प्रतिस्पर्धा रहती है. बारिश और घायल होने का भय भी उनके जोश में खलल नहीं डाल पाया. जन्माष्टमी का त्योहार घाटकोपर, दादर, लालबाग और भांडुप सहित समूचे शहर में पूरे उत्साह के साथ मनाया गया. नगर निकाय के अधिकारियों के मुताबिक शाम पांच बजे तक मुंबई में करीब 45 गोविंदा घायल हुए हैं.

अधिकारियों ने बताया कि घायलों में एक की हालत गंभीर है और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है जबकि अन्य लोगों का प्राथमिक उपचार करने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई.

पढ़ें: देशभक्ति के रंग में रंगे गोविंदा, तिरंगा 'दही हांडी' फोड़ गूंजा 'गोविंदा आला रे'

पुलिस ने बताया कि पालघर में 21 साल के रोहन किनी की मिरगी का दौरा पड़ने से मौत हो गई. हांडी तोड़ने के बाद उसे मानव पिरामिड से नीचे उतारा गया. लेकिन इसके तुरंत बाद उसे मिरगी का दौरा पड़ा. अस्पताल ले जाते समय शाम करीब साढ़े छह बजे उसकी मौत हो गई.

टिप्पणियां
VIDEO : मुंबई में दही हांडी की धूम

ऐरोली में जयेश सरले नामक गोविंदा की मौत हुई. उसकी मौत बिजली के तार की चपेट में आने से हुई. वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के लागू होने, आयकर की चिंता और नोटबंदी के चलते पिछले साल की तुलना में इस साल दही हांडी समारोह कुछ फीका रहा. गौरतलब है कि एक जनहित याचिका पर सुनवाई के दौरान बंबई उच्च न्यायालय को राज्य सरकार ने यह भरोसा दिलाया था कि यह सुनिश्चित करेगी कि 14 साल से कम उम्र के बच्चे दही हांडी पिरामिड बनाने में भाग नहीं लेंगे.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement