IIT-Bombay ने पूरे साल भर के लिए रद्द किए फेस-टू-फेस लेक्चर्स, ऑनलाइन मोड में रहेगा अगला सेमेस्टर

देश में तेजी से बढ़ते कोरोनावायरस के मामलों के बीच Indian Institute of Technology Bombay ने पूरे साल भर के लिए फेस-टू-फेस लेक्चर्स रद्द कर दिए हैं. अब ये लेक्चर्स ऑनलाइन होंगे. IIT बॉम्बे ऐसा करने वाला भारत का पहला बड़ा शिक्षण संस्थान बन गया है. 

खास बातें

  • IIT बॉम्बे ने लिया बड़ा फैसला
  • सालभर के लिए फेस-टू-फेस लेक्चर रद्द
  • अगला सेमेस्टर ऑनलाइन मोड में
मुंबई:

देश में तेजी से बढ़ते कोरोनावायरस के मामलों के बीच Indian Institute of Technology Bombay ने पूरे साल भर के लिए फेस-टू-फेस लेक्चर्स रद्द कर दिए हैं. अब ये लेक्चर्स ऑनलाइन होंगे. IIT बॉम्बे ऐसा करने वाला भारत का पहला बड़ा शिक्षण संस्थान बन गया है. IIT बॉम्बे के डायरेक्टर प्रोफेसर सुभाशीष चौधरी ने बुधवार की रात फेसबुक पर एक पोस्ट लिखकर इसकी जानकारी दी. उन्होंने कहा कि 'बहुत सोच-विचार के बाद छात्रों की सुरक्षा और उनका हित देखते यह फैसला लिया गया है.' उन्होंने पोस्ट में लिखा, 'IIT बॉम्बे के लिए छात्र प्राथमिकता हैं. ऐसे में इस सत्र के खत्म होने के साथ हमने छात्रों की सुविधा के लिए भारत में ऐसा पहला कदम उठाया है.' 

उन्होंने कहा, 'लेकिन महामारी की हालिया स्थिति को देखकर हमने सोचा कि अगले सेमेस्टर में हम छात्रों की मदद कैसे करें? फिर से हमने बहुत सोच-विचार करके सीनेट में यह फैसला किया है कि अगला सेमेस्टर पूरी तरह से ऑनलाइन होगा, जिससे छात्रों की सुरक्षा को लेकर कोई समझौता न हो.'

इस पोस्ट में उन्होंने आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों से आने वाले छात्रों के लिए मदद भी मांगी. डोनेशन की अपील में उन्होंने कहा, 'छात्रों का एक बड़ा वर्ग आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों से आता है और उन्हें ऑनलाइन क्लासेज के लिए IT हार्डवेयर सेटअप करने में मदद चाहिए होगी. हमारा अनुमान है कि हमें जरूरतमंद छात्रों की मदद के लिए 5 करोड़ रुपयों की जरूरत पड़ेगी. हम इन प्रतिभावान छात्रों के लिए आपके मदद की सराहना करते हैं.'

बता दें कि भारत में गुरुवार यानी 25 जून की सुबह तक कोरोना के कुल पॉजिटिव मामले 4,73,105 हो चुके हैं. अब तक 2,71,697 लोग इससे ठीक हो चुके हैं, वहीं 14,894 लोगों की मौत हुई है. महाराष्ट्र में देश में सबसे ज्यादा कोरोना मामले हैं. यहां कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1.39 से ऊपर है, वहीं अकेले मुंबई में कोरोना मामलों का आंकड़ा 70,000 के ऊपर चल रहा है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: लॉकडाउन का प्राइवेट स्कूलों पर पड़ रहा है असर