NDTV Khabar

ठाणे के फर्जी कॉल सेंटर मामले का फरार मास्टर माइंड सागर ठक्कर उर्फ शैगी गिरफ्तार

98 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
ठाणे के फर्जी कॉल सेंटर मामले का फरार मास्टर माइंड सागर ठक्कर उर्फ शैगी गिरफ्तार
मुंबई: ठाणे पुलिस के दावे के मुताबिक आर्थिक भ्रष्टाचार के मामले में उसने अक्टूबर में देश में अब तक का सबसे बड़ा छापा मारा था. उस कार्रवाई में 70 लोगों को गिरफ्तार किया था जिनपर मुंबई से सटे काशिमिरा के कॉल सेंटर से अमेरिका के लोगों को ठगने का आरोप था. मामला सामने आने के करीब 6 महीने बाद अब उसने फर्जी कॉल सेंटर मामले के फरार मास्टर माइंड सागर ठक्कर उर्फ शैगी को दुबई से मुंबई पहुंचते ही गिरफ्तार कर लिया. शुक्रवार रात उसे ठाणे पुलिस ने अपनी हिरासत में लिया जिसके बाद कोर्ट ने उसे 13 अप्रैल तक पुलिस हिरासत में भेज दिया. इस मामले की अहम कड़ी गुजरात के रशेस चौकसी को तीन दिन पहले ही ठाणे पुलिस ने गिरफ्तार किया था. सूत्रों के मुताबिक चौकसी सागर ठक्कर के सीधे संपर्क में था. पुलिस के मुताबिक कॉल सेंटर में इस्तेमाल होने वाले डायरेक्ट इनवर्ड डायलिंग और वाइस इंटरनेट प्रोटोकाल डायलिंग सिस्टम से जुड़े उपकरणों को रशेस चौकसी ने ही सप्लाई किया था.

अक्टूबर में ठाणे पुलिस की छापेमारी के बाद सागर दुबई भाग गया था. कुछ दिन दुबई में रहने के बाद वह थाईलैंड गया था और फिर दुबई आ गया था. अमेरिका की एजेंसी उसके पीछे लगी थी. उसके खिलाफ अमेरिका ने रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया था जिसके बाद दुबई में उसे गिरफ्तार किया गया था. लेकिन कोर्ट में अमेरिकन रेड कॉर्नर नोटिस टिका नहीं, लिहाज़ा उसे छोड़ दिया गया था.

पुलिस के मुताबिक सागर ठक्कर पिछले 6 साल से फर्जी कॉल सेंटर के कारोबार से जुड़ा था और अमेरिकन लोगों को धमका कर रुपये की उगाही के खेल में लगा था. उसने गुजरात के नवसारी से फर्जी काल सेंटर की शुरुआत की थी और फिर गुड़गांव, दिल्ली, शिलांग, ठाणे, हैदराबाद, अहमदाबाद, छत्तीसगढ़, कोलकाता तक बिजनेस को फैला लिया था. पिछले साल 4 अक्टूबर की देर रात ठाणे क्राइम ब्रांच ने छापा मारकर मीरा रोड स्थित 3 फर्जी काल सेंटर का पर्दाफाश किया था.

कॉल सेंटर से अमेरिकन नागरिकों को टैक्स डिफॉल्टर होने का झांसा दे करोड़ों की ठगी किये जाने की बात सामने आई थी. पुलिस ने उस मामले में 700 से अधिक लोगो को आरोपी बनाया है और 84 लोगों की अभी तक धरपकड़ हुई है. शैगी की गिरफ्तारी के बाद पुलिस को भरोसा है कि जल्दी ही बाकी आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

(अनिल के इनपुट के साथ)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement