NDTV Khabar

मुआवजा मांगने आए किसान के साथ मारपीट शर्मनाक : शिवसेना

4 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
मुआवजा मांगने आए किसान के साथ मारपीट शर्मनाक : शिवसेना

किसानों की दुर्दशा के मुद्दे पर शिवसेना ने बीजेपी की कड़ी आलोचना की है (प्रतीकात्मक चित्र)

मुंबई: शिवसेना के अपनी सहयोगी पार्टी बीजेपी पर लगातार प्रहार जारी हैं. इस बार पार्टी ने मुद्दा बनाया है सचिवालय में किसान के साथ हुई मारपीट को. इस घटना पर शिवसेना के मुखपत्र सामना में एक संपादकीय में इस घटना की कड़ी निंदा की है. शिवसेना ने पिछले हफ्ते राज्य सचिवालय में आए एक किसान के साथ पुलिस कर्मियों द्वारा की गई कथित मारपीट को क्रूर और शर्मनाक बताया. वह किसान मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से मिलने आया था.

शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ के एक संपादकीय में कहा कि किसान (रामेश्वर भुसारे) अपनी बर्बाद फसल का मुआवजा मांगने मंत्रालय आया था. यहां उसे बेदर्दी से पीटा गया और राज्य सचिवालय से बाहर फेंक दिया गया. यह घटना ना सिर्फ दुखद है बल्कि बर्बर और शर्मनाक भी है. दुखद बात यह है कि यह क्रूरता मुख्यमंत्री के कैबिन के बाहर घटित हुई.

टिप्पणियां
भुसारे औरंगाबाद जिले के कन्नड़ तालुका के घाटशेंद्र गांव के रहने वाले हैं. मंत्रालय के सुरक्षा कर्मियों ने उन्हें 23 मार्च को कथित तौर पर पीटा था. वर्ष 2015 में ओलावृष्टि के कारण उन्हें 10 लाख रुपये का नुकसान हुआ था लेकिन अधिकारियों ने उन्हें मुआवजा देने से इनकार कर दिया जिसके बाद वह फडणवीस से मिलने के लिए आए थे. शिवसेना ने कहा कि फडणवीस पारदर्शी प्रशासन की बात करते हैं लेकिन वर्ष 2015 में बेमौसम बरसात और ओलावृष्टि से फसल खराब होने पर किसानों को अब तक मुआवजा नहीं दे पाए हैं.

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement