Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

अस्पताल ले जाने में देरी से हुई थी रेलयात्री की मौत, कांस्टेबल निलंबित

22 जुलाई को सान पाडा स्टेशन का है एक आदमी चलती ट्रेन से अचानक गिर गया, उसे अस्पताल ले जाने के बजाय पुलिस वाले दूसरी ट्रेन का इंतजार करते रहे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अस्पताल ले जाने में देरी से हुई थी रेलयात्री की मौत, कांस्टेबल निलंबित

चलती ट्रेन से गिर गया था रेल यात्री. अस्पताल में पहुंचाने में देरी से गई जान.

मुंबई:

महाराष्ट्र में ट्रेन से गिरकर घायल हुए यात्री को अस्पताल पहुंचाने में हुई देरी के चलते गई जान मामले में जीआरपी ने कांस्टेबल को निलंबित कर दिया है और मौके पर तैनात होम गार्ड को हटा दिया है. यह कार्रवाई सीसीटीवी फुटेज को देखने के बाद की गई है. वाकया, 22 जुलाई को सान पाडा स्टेशन का  है एक आदमी चलती ट्रेन से अचानक गिर गया, उसे अस्पताल ले जाने के बजाय पुलिस वाले दूसरी ट्रेन का इंतजार करते रहे. जब 15 मिनट बाद दूसरी ट्रेन आई तो पुलिस वाले घायल को चलती ट्रेन में ही डालने की कोशिश कर रहे थे, पर वो उसे गाड़ी में नही चढ़ा पाये, गाड़ी उसके पहले ही चल दी. उसके बाद तीसरी ट्रेन में चढ़ा कर उसे छोड़ दिया.

ये भी पढ़ें: त्योहार पर तोहफा : बकरीद पर हावड़ा से गोरखपुर के बीच चलेगी स्पेशल ट्रेन


लोकल ट्रेन यार्ड में पहुंची पर किसी ने यह नहीं जानकारी दी कि डिब्बे में एक आदमी घायल पड़ा है. उसके बाद जब पनवेल में जब गाड़ी पहुंची तब क्लीनिंग स्टाफ ने पुलिस को खबर दी. उसके बाद उसे अस्पताल ले जाया गया तब तक उसकी मौत हो चुकी थी.

ये भी पढ़ें: तीन साल में हुए ये 10 बड़े रेल हादसे, 345 लोगों की गई जान

टिप्पणियां

पुलिस सिपाही के मुताबिक घायल आदमी काफी शराब के नशे में था, उन्हें लगा कि नशा उतरने के बाद वो खुद अपने घर चला जायेगा. 

मामले में जीआरपी कमिश्नर निकित कौशिक ने बताया कि मामले की जांच चल रही है. उस पुलिस सिपाही को निलंबित कर दिया गया है और होमगार्ड को हटाने के लिए लिखा गया है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... दिल्ली हिंसा: आधी रात CM केजरीवाल के घर के बाहर JNU और जामिया के छात्रों ने किया प्रदर्शन, पुलिस ने बरसाई पानी की बौछारें

Advertisement