NDTV Khabar

Mumbai Rain: भारी बारिश ने थामी मुंबई की रफ्तार, अगले कुछ दिनों तक भारी बारिश का अलर्ट, दो की मौत

मौसम विभाग के अनुसार मुंबई में सात अगस्त तक समान्य से तेज बारिश का अनुमान संभावना जताया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Mumbai Rain: भारी बारिश ने थामी मुंबई की रफ्तार, अगले कुछ दिनों तक भारी बारिश का अलर्ट, दो की मौत

मुंबई में बारिश ने बढ़ाई परेशानी

खास बातें

  1. अगले कुछ दिनों तक होगी भारी बारिश
  2. हाई टाइड का भी अलर्ट
  3. बीते कुछ दिनों से हो रही है तेज बारिश
मुंबई :

मुंबईकरों को अगले कुछ दिनों तक बारिश से राहत मिलती नहीं दिख रही है. मौसम विभाग द्वारा जारी चेतावनी के अनुसार मुंबई और उसके आसपास के इलाकों में भारी से भारी बारिश हो सकती है. बात दें कि बीते कुछ दिनों से मुंबई और आसपास के इलाकों लगातार बारिश हो रही है. इस वजह से मुंबई में जगह-जगह जल जमाव और ट्रैफिक जाम देखने को मिल रहा है. मौसम विभाग के अनुसार मुंबई में सात अगस्त तक समान्य से तेज बारिश का अनुमान है.विभाग ने शनिवार को चेतावनी दी कि अगले 24 घंटे में ऊपरी पश्चिमी तट क्षेत्र में और भारी वर्षा होने की संभावना जताई है. मौसम विभाग ने लोगों को चेतावनी देते हुए कहा कि रविवार को समुद्र में बड़ा ज्वार भाटा आने के बीच भारी बारिश का अनुमान अच्छा संयोग नहीं है.

Delhi Weather Forecast: दिल्ली-एनसीआर में उमस से मिल सकती है राहत, शाम तक बारिश की संभावना, जानें अपने राज्य का मौसम


मध्य रेलवे के ठाणे और पनवेल स्टेशनों के बीच हजारों यात्री घंटों तक फंसे रहे क्योंकि पटरियों पर पानी भरने की वजह से ट्रेनों का आवागमन प्रभावित हुआ. नासिक जिले में गोदावरी नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है. अधिकारियों ने राज्य में नदियों के किनारे रहने वाले लोगों को सतर्क रहने के लिए कहा है क्योंकि पिछले कुछ दिनों के दौरान भारी बारिश के बाद कई बांधों से पानी छोड़ा गया है. महाराष्ट्र के ठाणे जिले में मुंब्रा में छत गिरने की घटना में एक व्यक्ति को करंट लगने से मौत हो गई जबकि एक अन्य व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गया. नाले में गिरने से 30 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत हो गई. महाराष्ट्र के कई अन्य जिलों में दिन के दौरान बारिश हुई. पालघर जिले में भारी बारिश के कारण मकान गिरने के एक दर्जन से अधिक घटनाएं सामने आयीं. कई गांव जलमग्न हो गए हैं और एक वीडियो में मवेशियों के पानी में बहते हुए दिखाया गया. शिक्षण संस्थान शनिवार को भी बंद रहे.

Mumbai Rains: आज भी थम सकती है मायानगरी की रफ्तार, 'भारी से भारी' बारिश की चेतावनी

बृहन्मुंबई महानगरपालिका ने मुंबई के निवासियों के लिए समुद्र या जलमग्न क्षेत्रों में नहीं उतरने की सलाह जारी की. बीएमसी ने भी एक ट्वीट में कहा कि शहर के स्कूलों और कॉलेजों के लिए छुट्टी घोषित कर दी गई है. दोपहर में जल स्तर बढ़ने और उच्च ज्वार के कारण कुर्ला और स्यान के बीच ट्रेन सेवाएं स्थगित कर दी गई.  मध्य रेलवे के मुख्य प्रवक्ता सुनील उदासी ने कहा कि उपनगरीय ट्रेनें "सतर्क गति" से चल रही हैं. एक अधिकारी ने कहा कि हालांकि मुंबई हवाई अड्डे पर उड़ान संचालन प्रभावित नहीं हुआ. दिल्ली, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा और हिमाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश हुई। हालांकि राष्ट्रीय राजधानी में आर्द्रता का स्तर शाम तक बढ़ गया. वहीं, मौसम विभाग के एक पूर्वानुमान ने कहा गया था कि पश्चिमी तट से लगे कई क्षेत्रों में मध्यम से भारी वर्षा जारी रहेगी. गुजरात में वडोदरा शहर में विश्वामित्री नदी का प्रकोप कुछ कम हुआ है. राज्य के दक्षिणी हिस्से में कई क्षेत्रों मुख्य रूप से सूरत और वलसाड जिलों में भारी वर्षा हुई थी. गुजरात की कई नदियां भी खतरे के निशान के पास बह रही थीं.

Mahalaxmi Express: बाढ़ में फंसी महालक्ष्मी एक्सप्रेस के सभी यात्रियों को सुरक्षित निकाला गया

अधिकारियों ने कहा कि एनडीआरएफ की चार टीमों को दक्षिण गुजरात क्षेत्र में तैनात किया गया है. राज्य आपदा अभियान केंद्र के अनुसार शनिवार सुबह और दोपहर के बीच सूरत में ओलपाड तालुका में 298 मिमी बारिश और उमरपाड़ा में 204 मिमी बारिश हुई. वलसाड जिले के धरमपुर में 125 मिमी बारिश हुई. जिला कलेक्टर धवल कुमार पटेल ने कहा कि सूरत जिले से होकर बहने वाली किम नदी 11 मीटर का चेतावनी स्तर पार कर गई है. राष्ट्रीय आपदा मोचन बल और राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल के कर्मियों को निचले इलाकों से निवासियों को निकालने के लिए तैनात किया गया है. गुजरात में शनिवार तक इस मौसम के लिए वार्षिक औसत वर्षा की 51.49 प्रतिशत बारिश हुई है. एसईओसी के आंकड़ों से पता चलता है कि दक्षिणी गुजरात के जिलों में अधिकतम वर्षा हो रही है. भुवनेश्वर में क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र के एक अधिकारी ने कहा कि पूर्वी तट में पूर्वोत्तर बंगाल की खाड़ी में अगले 48 घंटे में एक ताज़ा निम्न दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है, जिससे 7 अगस्त तक ओडिशा और पड़ोसी राज्यों में अधिक बारिश हो सकती है.

Mumbai Rains: बारिश की वजह से फिर थमी मुंबई की रफ्तार, सड़कें और रेलमार्ग जलमग्न, 17 उड़ानें की गईं डायवर्ट

ओडिशा सरकार ने मलकानगिरि, कोरापुट, नबरंगपुर, कालाहांडी और नुआपाड़ा जिलों के कलेक्टरों को सलाह जारी की है कि वे इस स्थिति पर नजर रखें क्योंकि भारी बारिश से क्षेत्रों में बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो सकती है. हालांकि, बारिश से प्रभावित मलकानगिरि की स्थिति में शनिवार को काफी सुधार हुआ. गुवाहाटी में एक आधिकारिक रिपोर्ट में कहा गया है कि बाढ़ से शनिवार को असम में एक और व्यक्ति की मौत हो गई. इससे इस मौसम में मृतकों की संख्या बढ़कर 89 हो गयी. समग्र स्थिति में भी काफी सुधार हुआ. इसमें कहा गया है कि बाढ़ प्रभावित लोग अपने घरों को लौटने लगे हैं लेकिन 3,765 लोग अब भी बारपेटा, चिरांग, मोरीगांव, नागांव और जोरहट जिलों में 44 राहत शिविरों में हैं. मौसम विभाग ने सोमवार के लिए हिमाचल प्रदेश में अत्यधिक भारी वर्षा के लिए आरेंज चेतावनी और मंगलवार के लिए येलो चेतावनी जारी की है. पटना से मिली खबर के अनुसार राज्य के आपदा प्रबंधन विभाग ने कहा कि बिहार में बाढ़ की स्थिति शनिवार को स्थिर रही और 13 प्रभावित जिलों में से कहीं से भी किसी की मृत्यु की सूचना नहीं है. बाढ़ में मरने वालों की संख्या लगातार चौथे दिन 130 रही. 13 जिलों के 111 खंडो की 1,301 पंचायतों में रहने वाले 88 लाख से अधिक लोग पिछले महीने पड़ोसी देश नेपाल के जलग्रहण क्षेत्रों में मूसलाधार बारिश के कारण आई बाढ़ से प्रभावित हैं. अधिकांश लोगों की मौत बाढ़ से सबसे अधिक प्रभावित सीतामढ़ी (37) और मधुबनी (30) जिलों में हुई. 

VIDEO: मुंबई में भारी बारिश ने बढ़ाई मुसीबत.

टिप्पणियां


 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement