NDTV Khabar

भाजपा RSS कार्यकर्ताओं को राज्यपाल बना सकती है तो मोहन भागवत को राष्ट्रपति क्यों नहीं : उद्धव ठाकरे

69 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
भाजपा RSS कार्यकर्ताओं को राज्यपाल बना सकती है तो मोहन भागवत को राष्ट्रपति क्यों नहीं : उद्धव ठाकरे

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (फाइल फोटो)

मुंबई: शिवसेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे ने आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाने में भाजपा की कथित अनिच्छा पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि यह समस्या नहीं होनी चाहिए, क्योंकि पार्टी आरएसएस के लोगों को राज्यपाल पद पर तैनात कर रही है.

उद्धव ने मुंबई में संवाददाताओं से कहा, 'हमारी हार्दिक इच्छा है कि भागवत का नाम राष्ट्रपति पद के लिए आगे बढ़ाया जाना चाहिए. हिंदू राष्ट्र के हमारे संकल्प के लिए वह सबसे योग्य उम्मीदवार हैं. राज्यपालों की नियुक्ति पर गौर कीजिए. आरएसएस के कार्यकर्ताओं को अगर राज्यों का राज्यपाल बनाया जा सकता है, तो भागवत को राष्ट्रपति बनाने में कोई समस्या नहीं होनी चाहिए.'

यह पूछने पर कि क्या अपनी पहली पंसद पूरी नहीं होने पर शिवसेना, एनसीपी प्रमुख शरद पवार का अगले राष्ट्रपति के तौर पर समर्थन करेगी तो उन्होंने कहा, 'इस मुद्दे पर हमने एक-दूसरे से बात नहीं की है इसलिए इस समय कुछ नहीं कहा जा सकता..'

उद्धव ने कहा, 'लेकिन पवार के बारे में क्या कहा जा सकता है? मोदी जी ने खुद ही कहा था कि पवार उनके गुरु हैं. उन्हें पद्म विभूषण से भी नवाजा गया है. मुझे नहीं पता कि किसके दिमाग में क्या चल रहा है.'

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement