बीएमसी बजट में ऑक्‍ट्राय ड्यूटी वृद्धि‍ का प्रस्‍ताव, बढ़ सकता है मुंबईकरों की जेब पर बोझ

बीएमसी बजट में ऑक्‍ट्राय ड्यूटी वृद्धि‍ का प्रस्‍ताव, बढ़ सकता है मुंबईकरों की जेब पर बोझ

प्रतीकात्‍मक फोटो

मुं‍बई:

देश की सबसे अमीर महानगरपालिका बृहनमुंबई म्‍युनिसिपल कार्पोरेशन (बीएमसी) ने बुधवार को साल 2016-17 के बजट एस्टीमेट पेश किया। पिछले साल के करीब 33 हजार करोड़ के बजट को बढ़ाकर 37 हजार करोड़ कर दिया गया। साथ ही क्रूड आयल कंपनियों पर लगने वाले टैक्स को भी बढ़ा दिया जाएगा।

बढ़ाकर साढ़े चार फीसदी करने का प्रस्‍ताव
मुम्बई पहले ही देश के सबसे महंगे पेट्रोल उत्पाद बेचने वाला शहर है। अब एक कदम और आगे बढ़ सकता है। इस साल के बजट में बीएमसी ने क्रूड ऑयल कंपनियों पर लगने वाले टैक्स को बढ़ाने का प्रस्ताव दिया है। डिप्टी मेयर अलका केरकर ने कहा कि घाटे को संभालने के लिए ऑक्‍ट्राय टैक्स 3 फीसदी से बढ़ाकर 4.5 फीसदी किए जाने का प्रस्ताव दिया गया है।

पेट्रोल के दाम बढ़ने का होगा दूरगामी असर
मुंबईकर पहले से ही सबसे महंगा पेट्रोल खरीद रहा है।अब टैक्स की यह मार जेब पर और भारी पड़ेगी। पेट्रोल के दाम बढ़ने का असर रोजमर्रा की हर चीज पर पड़ेगा। ऑटो-टैक्सी के किराये से लेकर बाकी चीजों के दाम भी बढ़ सकते हैं। हालांकि, पेट्रोल एसोसिएशन का कहना है कि डेढ़ फीसदी की बढ़त इतनी ज्यादा नहीं होगी कि आम मंबईकर का बजट गड़बड़ा जाए,  लेकिन जानकार कह रहे हैं कि अगर क्रूड ऑयल कंपनियों का ऑक्‍ट्रॉय टैक्स डेढ़ फीसदी बढ़ाया गया तो इसकी भरपाई वह पेट्रोल-डीजल की कीमतें बढ़ाकर कर लेंगी।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com