ISIS के संदिग्ध को मिला था जाकिर नाइक की संस्था IRF से स्कॉलरशिप : एनआईए

ISIS के संदिग्ध को मिला था जाकिर नाइक की संस्था IRF से स्कॉलरशिप : एनआईए

अबू अनस की फाइल तस्वीर

खास बातें

  • राजस्थान के अबू अनस को जनवरी, 2016 में गिरफ्तार किया गया था
  • वह ISIS की तरफ से लड़ने के लिए सीरिया जाने की फिराक में था
  • अनस को 2015 में IRF की तरफ से 80 हजार रुपये स्कॉलरशिप मिले थे
मुंबई:

आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट के संदिग्ध अबू अनस को जाकिर नाइक की संस्था इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन (आईआरएफ) से स्कॉलरशिप मिला था. राजस्थान के टोंक के रहने वाले अबू अनस को जनवरी, 2016 में गिरफ्तार किया गया था. आरोप है कि वह आईएसआईएस की तरफ से लड़ने के लिए सीरिया जाने की फिराक में था. जांच एजेंसी एनआईए ने खुलासा किया है कि अबू अनस को साल 2015 में ही आईआरएफ की तरफ से 80 हजार रुपये बतौर स्कॉलरशिप दिए गए थे.

Newsbeep

नाइक की संस्था आईआरएफ को केंद्र सरकार पिछले हफ्ते ही पांच साल के लिए प्रतिबंधित कर चुकी है. राष्ट्रीय जांच एजेंसी एनआईए ने भी आईआरएफ के खिलाफ आतंकवाद विरोधी कानून यूएपीए और आईपीसी की धारा 153 ए के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू की है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


एनआईए के आईजी आलोक मित्तल के मुताबिक मामला दर्ज करने के बाद से आईआरएफ से जुड़े 20 ठिकानों की तलाशी ली जा चुकी है, जहां से बड़े पैमाने पर डीवीडी, वीडियो टेप, जाकिर नाइक के भाषणों का कलेक्शन, संपत्ति, निवेश, देश-विदेश से मिले चंदे औऱ वित्तीय लेनदेन के दस्तावेज बरामद हुए हैं. दस्तावेजों की पड़ताल का काम जारी है. जांच में ऐसी कई कंपनियों का भी पता चला है जिनके तार आईआरएफ से जुड़े मिले हैं.