सोशल मीडिया ने सिर्फ दो घंटे में बिछड़े पिता को बेटी से मिलाया

मुंबई पुलिस ने सोशल मीडिया के जरिये परिवार से बिछड़े एक बुजुर्ग पिता को महज 2 घंटे में ही बेटी से मिला दिया.

सोशल मीडिया ने सिर्फ दो घंटे में बिछड़े पिता को बेटी से मिलाया

मुंबई पुलिस ने महज दो घंटे में बुजुर्ग को परिवार से मिलाया

खास बातें

  • मुंबई पुलिस ने टि्वटर, फेसबुक और व्हाट्सऐप का लिया सहारा
  • साकीनाका जंक्शन पर गस्त के दौरान पुलिस को मिले थे समीउल्लाह
  • पुलिस ने इसके लिए स्थानीय लोगों के 12 व्हाट्सऐप ग्रुप भी बनाए
मुंबई:

मुंबई पुलिस ने सोशल मीडिया के जरिये परिवार से बिछड़े एक बुजुर्ग पिता को महज 2 घंटे में ही बेटी से मिला दिया. हालांकि यह इतना आसान नहीं था, क्योंकि बुजुर्ग को भूलने की बीमारी है.पुलिस ने बुजुर्ग को ढूंढ़ने के लिए टि्वटर, फेसबुक और व्हाटसऐप का सहारा लिया.

साकीनाका पुलिस थाना प्रभारी अविनाश धर्माधिकारी के मुताबिक साकीनाका जंक्शन पर मंगलवार को गस्त कर रही पुलिस को एक बुजुर्ग सड़क के बीचों-बीच खड़े मिले. पुलिस ने उनका नाम और पता जानना चाहा लेकिन वो कुछ भी बताने में असमर्थ थे. आखिरकार उन्हें थाने लाया गया जहां ड्यूटी अधिकारी पीएसआई संजय चव्हाण बुजुर्ग से उनका नाम किसी तरह पूछने में कामयाब रहे. हालांकि परेशानी तब भी खत्म नहीं हुई, क्योंकि सिर्फ नाम पता चलने से उनके घरवालों को खोजना आसान नहीं था.

मुंबई पुलिस के प्रवक्ता डीसीपी करंदीकर ने बताया कि हमने बुजुर्ग की फोटो ट्वीट कर लोगों से उन्हें पहचानने की अपील की. इसके अलावा फेसबुक और व्हाट्सऐप ग्रुप पर भी फोटो साझा किए गए. इसके लिए इलाके के लोगों के 12 व्हाट्सऐप ग्रुप भी बनाए गए. आखिर में सफलता मिल गई. समीउल्लाह को जानने वाले एक शख्स ने उनकी बेटी मेहजबीन शाह को पिता के साकीनाका पुलिस थाने में होने की सूचना दी. इस तरह बुजुर्ग वापस घर पहुंच सके.


 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com