मुंबई : नए कानून के तहत चार डांस बार पर छापे, तकरीबन 60 लड़कियों को छुड़ाया

मुंबई : नए कानून के तहत चार डांस बार पर छापे, तकरीबन 60 लड़कियों को छुड़ाया

प्रतीकात्मक तस्वीर

मुंबई:

मुंबई पुलिस की समाज सेवा शाखा ने गुरुवार रात मुंबई के 4 बारों पर छापा मारकर तकरीबन 75 लोगों को गिरफ्तार किया है। कार्रवाई के दौरान बार में पाई गई 60 लड़कियों को छोड़ दिया गया। खास बात यह है कि मुंबई पुलिस ने यहां डांस बार में अश्लीलता पर प्रतिबन्ध लगाने वाले नए कानून के तहत पहली कार्रवाई की है। इसमें शामिल ए सी पी राजदूत रूपवते के मुताबिक होटल, रेस्टॉरेंट और बार में अश्लील नाच पर प्रतिबंध लगाने वाले इस कानून के तहत दोषी पाये जाने पर 5 साल की सजा और 25 लाख दंड का प्रावधान है। नये कानून के तहत बार डांसर को छूने और पैसे उड़ाने पर भी पाबंदी है।

डांस बार का लाइसेंस
इसके पहले ऐसे मामलों में आई पी सी की धारा 294 के तहत कार्रवाई होती थी जिसमें सार्वजनिक जगहों पर अश्लील हरकत और गाने पर प्रतिबन्ध है लेकिन दोषी पाये जाने पर सिर्फ 3 महीने की सजा का ही प्रावधान है। इससे पहले बार से पकड़ी गई लड़कियों के खिलाफ भी कार्रवाई होती थी लेकिन नए कानून के तहत सिर्फ बार मालिक, कर्मचारी और ग्राहकों के खिलाफ कार्रवाई का प्रावधान है। पुलिस ने कल रात जिन 4 बार में कार्रवाई की उसमे घाटकोपर का महफ़िल बार, मुंबई सेंट्रल का समुद्रा बार, ग्रांट रोड का तेजस बार और अंधेरी का पिंक प्लाजा बार शामिल है। इनमें से किसी को भी नए कानून के तहत डांस बार का लाइसेंस नहीं मिला है।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर नए कानून के तहत मुंबई पुलिस ने अभी सिर्फ 3 डांस बारों को अनुमति दी है लेकिन शर्तों के साथ। अगर 2 महीने में डांस बार मालिक सभी शर्तों को पूरा नहीं करते तो 2 महीने में उनका लाइसेंस अपने आप रद्द हो जायेगा। डांस बार मालिकों ने नई शर्तों का विरोध किया है इसलिए लाइसेंस मिलने के बाद भी साई प्रसाद क्लासिक, ऐरो पंजाब और इंडियाना तीनों डांस बार अभी शुरू नहीं हो पाये हैं।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com